Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

कमोडिटी ट्रेडिंग के लिए तैयार: बीएसई

प्रकाशित Tue, 02, 2018 पर 14:17  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सेबी से यूनिवर्सल एक्सचेंज को इजाजत मिल गई है। अब देश में यूनिवर्सल एक्सचेंज खुलेंगे जिससे शेयर और कमोडिटी का एक ही एक्सचेंज पर ट्रेडिंग संभव हो सकेगी। नए नियमों के बाद अब स्टॉक एक्सचेंज भी कमोडिटी में ट्रेडिंग करा सकेंगे और एक ही एक्सचेंज पर शेयर, कमोडिटी और करेंसी में ट्रेडिंग हो सकेगी। अक्टूबर 2018 से यूनिवर्सल एक्सचेंज खुल सकेंगे। फिलहाल कमोडिटी ट्रेडिंग के लिए अलग एक्सचेंज हैं।


बीएसई यानि बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज की कमोडिटी में ट्रेडिंग शुरू करने की तैयारी है। कैश इक्विटी ट्रेडिंग में बीएसई की 13.4 फीसदी बाजार हिस्सेदारी है। जबकि यहां एफएंडओ सेगमेंट में बेहद कम कारोबार होता है। बीएसई में गिफ्ट सिटी में इंडिया आईएनएक्स की शुरुआत की है। बीएसई की आईसीसीएल में 100 फीसदी और सीडीएसएल में 25 फीसदी की हिस्सेदारी है।


बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के एमडी और सीईओ आशीष चौहान ने नो योर कंपनी में सीएनबीसी-आवाज़ के साथ बात करते हुए कहा कि धीरे-धीरे बीएसई में शानदार ट्रेडिंग की उम्मीद है। पहले एनएसई में भी धीमी ट्रेडिंग होती थी। कमोडिटी में रोज करीब 25000 करोड़ रुपये की ट्रेडिंग होती है। बीएसई यूनिवर्सल एक्सचेंज शुरू करने के लिए तैयार है। एक्सचेंज की कमोडिटी में ट्रेडिंग की तैयारी 2015 से ही है। पहले नॉन एग्री कमोडिटी में ट्रेडिंग की योजना है। कमोडिटी ट्रेडिंग की शुरुआत सोने-चांदी में ट्रेडिंग से की जाएगी।