Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

नए वित्त वर्ष में कहां कटेगी जेब, कहां मिलेगा सहारा

प्रकाशित Thu, 30, 2017 पर 14:14  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

1 अप्रैल बस कुछ ही दिन दूर है और ऐसे में वक्त आ गया है अपने बजट को पहले से ही प्लान कर लेने का। नया वित्तीय वर्ष, कहीं आपकी जेब काटेगा, तो कहीं आपको राहत भी देगा। कैसे बनाएं अपने नए वित्तिय वर्ष का फाइनेंशियल बजट। इस पर बात करने के लिए हमारे साथ है एटिका वेल्थ मैनेजमेंट के डायरेक्टर निखिल कोठारी।


निखिल कोठारी का कहना है कि सिगरेट, तंबाकू और एक्साइज ड्यूटी 4.2 फीसदी से बढ़कर 8.3 फीसदी हो गई है जो निवेशक के जेब पर मंहगा पड़ सकता है। इतना ही नहीं मोबाइल फोन पर सर्किट बोर्ड पर कस्टम ड्यूटी 2 फीसदी बढ़ाई गई है और एलईडी  पर 5 फीसदी कस्टम ड्यूटी लगेगी। वहीं फाइनेंशियल सर्विसेज में सर्विस टैक्स 15 फीसदी से बढ़कर 18 फीसदी कर दी गई है जो आपके जेब पर भारी पड़ सकता है।


1 अप्रैल से ना केवल आपके जेब पर मंहगाई की मार पड़ेगी बल्कि रेल मंत्रालय आपको थोड़ी राहत भी दे रहा है। 1 अप्रैल से  आईआरसीटीसी वेबसाइट से टिकट बुकिंग करने पर सर्विस टैक्स हटाया गया है जिससे आपके खर्च में कमी आएगी। वहीं एलएनजी पर कस्टम ड्यूटी 5 फीसदी से घटकर 2.5 फीसदी कर दिया गया है जिससे थोड़ी राहत जरुर मिल सकती है।


निखिल कोठारी के मुताबिक नोटबंदी के बाद बैंक में लिक्विडीटी काफी बढ़ी है और लिक्विडीटी बढ़ने के कारण बैंक के ब्याज दर में कमी आई है। बीते 1 साल से आरबीआई के भी रेट कट कर रहा है और फिर नोटबंदी के बाद बैंक में अधिक मात्रा में लिक्विडीटी आने के कारण एफडी में ब्याज दरें कम हुई औऱ होम लोन सस्ता सस्ते किये गए। इतना ही नहीं प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 9 लाख के लोन पर 4 फीसदी ब्याज और 12 लाख के लोन पर 3 फीसदी ब्याज कर दिया गया है। वहीं कैपिटल गैन टैक्स कैपिटल गैन टैक्स की सीमा 3 साल से घटकर 2 साल कर दी गई है उससे आपको लॉन्ग टर्म गैन का फायदा मिल सकता है।


सवालः क्या 80डी के तहत 5,000 रुपये का हेल्थ चेक अप कैसे क्लेम कर सकते हैं? 


निखिल कोठारीः 80डी के तहत 5,000 के प्रिवेंटिव हेल्थ चेक अप पर टैक्स छूट मिलती है। सेक्शन 80डी के तहत अपने और परिवार के लिए 25,000 तक की टैक्स छूट मिलती है। सेक्शन 80डी के तहत बूढ़े माता-पिता के लिए 30 हजार तक की टैक्स छूट है। लेकिन टैक्स छूट के लिए मेडिकल इंश्योरेंस की जरूरत नहीं है। प्रिवेंटिव हेल्थ चेक अप पर टैक्स छूट के लिए नकद भुगतान करें और अपने चेक अप की रसीद संभालकर रखें।


सवालः  जीवन सरल पॉलिसी में 2009 से निवेश कर रहे हैं, 2019 तक प्रीमियम भरना है क्या अभी पॉलिसी में निवेश बंद कर सकते हैं?


निखिल कोठारीः जीवन सरल पॉलिसी निवेश और इंश्योरेंस एक साथ है। जीवन सरल पॉलिसी के रिटर्न 6-7 फीसदी तक मिलता है।  इंश्योरेंस के लिए टर्म प्लान खरीदें औऱ फिलहाल पॉलिसी में निवेश जारी रखें।