Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

योर मनी: सैलरी बढ़ने पर कहां करें निवेश

प्रकाशित Sat, 30, 2016 पर 18:22  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

निवेश की बारिकियां नहीं समझेंगे तो सही निवेश नही कर पाएंगे, नतीजा ये कि आपकी जिंदगी की प्लानिंग में कई तरह की रूकावटें आएंगी। यहां आपके फाइनेंशियल प्लानिंग से जुड़े सभी सवालों के जवाब देगें बजाज कैपिटल के अनिल चोपड़ा।


साल का ये समय होता है, जब हम साब के हाथ में बढी हुई सैलरी आती है, यानी अप्रेजल का समय, बोनस  का समय। और इस वक्त का हम सब बोसब्री से इंतजार करते हैं।   खरीदारी की तो लंबी लिस्ट हमारे पास होती ही है, लेकिन क्या ये समय अपने निवेश को भी बढ़ाने का है, सबसे पहले करते हैं इस पर बात। बड़ी हुई सैलरी आपके सपने पूरे कर सकी है। इस के लिए आपको बोनस और अप्रेजल की खास प्लानिंग करनी होगी और फंड को समझकर निवेश करना होगा।


अनिल चोपड़ा की राय है कि सैलरी बढ़ने का मतलब खर्च बढ़ाना नहीं होता। आपको अपने खर्चों पर नियंत्रण रखके निवेश बढ़ाने की रणनीति अपनानी चाहिए। बढ़ी हुई सैलरी मिलते ही अपना बजट तैयार करें। सबसे जरूरी लक्ष्यों को चुन लें। तीन लक्ष्य सबसे अहम होते हं। इनमें से पहला है बच्चे की उच्च शिक्षा का प्लान। दूसरा है बच्चे की शादी की प्लानिंग और तीसरा है रिटायरमेंट की प्लानिंग। जिनको ध्यान में रखते हुए बढ़ी हुई सैलरी या बोनस से एसआईपी की शुरुआत करें। अपने वित्तीय लक्ष्यों के हिसाब से निवेश करें। निवेश करते समय महंगाई का ख्याल रखना जरूरी होता है।


अब लेते हैं आपके निवेश से जुड़े सवाल


सवाल: नौकरी का पहला साल है। लगभग 20 फीसदी अप्रेजल हुआ है। सालाना आय अब 5 लाख रुपये है। बढ़ी हुई सैलरी से खरीदारी करनी चाहिए या फिर निवेश करना चाहिए?


जवाब: आपको जरूरी चीजें ही खरीदने की सलाह होगी। भविष्य के लक्ष्यों के लिए निवेश करें। महिलाओं के लिए वित्तीय आत्मनिर्भरता जरूरी होती है, उस पर ध्यान दें।
3 हजार से निवेश की शुरूआत करें, 30 साल का लक्ष्य रखें। इस निवेश से आप 2 करोड़ रुपये जमा कर लेंगी। आप आईसीआईसीआई प्रू  वैल्यू डिस्कवरी फंड और फ्रैंकलिन इंडिया हाई ग्रोथ फंड में निवेश कर सकती हैं।


सवाल: 25 साल का नया निवेशक हूं। एसबीआई ब्लूचिप(ग्रोथ) एमएफ में निवेश किया है फंड कैसा है, 10 से 15 साल का समय है और किन फंड में निवेश कर सकते हैं? 


जवाब: इक्विटी में निवेश करने के फैसला सही है। लंबा नजरिया है तो लार्जकैप फंड, मिडकैप फंड और इंटरनेशनल इक्विटी फंड में नियमति रूप से निवेश करें।


वीडियो देखें