Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » बाजार आउटलुक- फंडामेंटल

लंबे नजरिए से करें निवेश, जरूर बनेगा पैसा

प्रकाशित Tue, 06, 2017 पर 11:21  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बाजार में पिछले कई महीनों से जोरदार तेजी का रुझान बना हुआ है और सेंसेक्स-निफ्टी लगातार नए रिकॉर्ड बनाते जा रहे हैं। लेकिन क्या ये तेजी आगे भी जारी रहेगी या अब निवेशकों को सतर्क हो जाना चाहिए, यही जानने के लिए सीएनबीसी-आवाज़ ने शुरू की है खास सीरीज लाइफ एट लाइफ हाई। इसी कड़ी में सीएनबीसी-आवाज़ के मार्केट एडिटर अनिल सिंघवी ने बात की बाजार के जाने-माने दिग्गज और बीएसई के मेंबर रमेश दमानी से।


रमेश दमानी का कहना है कि नई तेजी से पहले छोटा करेक्शन आ सकता है। नए निवेश में अभी सावधानी बरतें। ग्लोबल अनिश्चितता से तेजी में रुकावट आएगी। घरेलू कंपनियां कर्ज चुकाने में नाकाम, बाजार पर इसका असर दिखेगा। घरेलू संकेतों की वजह से भी करेक्शन दिख सकता है। उन्होंने आगे कहा कि जीएसटी आने पर अगले दो तिमाही के नतीजों पर असर दिखेगा। अगले 6 महीनों में बाजार में 10 फीसदी करेक्शन दिख सकता है।


रमेश दमानी का मानना है कि लंबी अवधि के निवेश के लिए अब भी मौके हैं। मिडकैप में ज्यादातर शेयरों के वैल्युएशन महंगे हैं। आगे जीएसटी, ट्रंप की टैक्स नीतियों पर बाजार की नजर रहेगी। पश्चिमी देशों में ब्याज दरें बढ़ना अच्छा संकेत नहीं है।


कहां हैं निवेश के मौके? इस सवाल पर रमेश दमानी का कहना है कि आगे साइबर सिक्योरिटी थीम वाले शेयरों में तेजी दिखेगी। इसके साथ ही क्विक सर्विस रेस्टॉरेंट थीम वाले शेयरों में भी अच्छा फायदा मिल सकता है।


पीएसयू शेयरों पर बात करते हुए रमेश दमानी ने कहा कि एयर इंडिया के निजीकरण से फायदा होगा। मोदी सरकार कड़े फैसले लेने में सक्षम है। रमेश दमानी के मुताबिक रियल्टी शेयरों के वैल्युएशन अब भी सस्ते हैं। मौजूदा वैल्युएशन पर रियल्टी में अच्छे मौके हैं। एविएशन शेयरों पर भी रमेश दमानी बुलिश हैं। उनका मानना है कि बड़ी एयरलाइन कंपनियों में जबरदस्त सुधार देखने को मिलेगा, एविएशन शेयरों में आगे भी तेजी रहेगी।