Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

खबरों के दम पर इन शेयरों में रहेगी हलचल

प्रकाशित Tue, 07, 2017 पर 07:32  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

शेयरों की हर हलचल पर पैनी नजर रखकर अपने निवेश को सुरक्षित जरूर किया जा सकता है। यहां हम बता रहे हैं ऐसे शेयर जो रहेंगे आज खबरों में और जिन पर होगी बाजार की नजर।


जस्ट डायल


वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में जस्ट डायल का मुनाफा 23 फीसदी बढ़कर 37 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में जस्ट डायल का मुनाफा 30 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में जस्ट डायल की आय 8 फीसदी बढ़कर 194 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में जस्ट डायल की आय 180 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में जस्ट डायल का एबिटडा 22 करोड़ रुपये से बढ़कर 40 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में जस्ट डायल का एबिटडा मार्जिन 12.4 फीसदी से बढ़कर 20.4 फीसदी रहा है।


टोरेंट पावर


वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में टोरेंट पावर का मुनाफा 2.3 गुना बढ़कर 318 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में टोरेंट पावर का मुनाफा 140 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में टोरेंट पावर की आय 8.9 फीसदी बढ़कर 2915 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में टोरेंट पावर की आय 2677 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में टोरेंट पावर का एबिटडा 658 करोड़ रुपये से बढ़कर 838 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में टोरेंट पावर का एबिटडा मार्जिन 24.6 फीसदी से बढ़कर 28.7 फीसदी रहा है।


गुजरात गैस


वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में गुजरात गैस का मुनाफा 41 फीसदी घटकर 61 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में गुजरात गैस का मुनाफा 104 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में गुजरात गैस की आय 6 फीसदी घटकर 1430 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में गुजरात गैस की आय 1517 करोड़ रुपये रही थी।


तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में गुजरात गैस का एबिटडा 270 करोड़ रुपये से घटकर 203 करोड़ रुपये रहा है। तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में गुजरात गैस का एबिटडा मार्जिन 17.8 फीसदी से घटकर 14.2 फीसदी रहा है।


केईसी इंटरनेशनल


वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में केईसी इंटरनेशनल का मुनाफा 37.5 फीसदी बढ़कर 89 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में केईसी इंटरनेशनल का मुनाफा 65 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में केईसी इंटरनेशनल की आय 2.8 फीसदी बढ़कर 2132 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में केईसी इंटरनेशनल की आय 2074 करोड़ रुपये रही थी।


सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में केईसी इंटरनेशनल का एबिटडा 185 करोड़ रुपये से बढ़कर 216 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में केईसी इंटरनेशनल का एबिटडा मार्जिन 8.9 फीसदी से बढ़कर 10.1 फीसदी रहा है।


टाटा केमिकल्स


टाटा केमिकल्स हल्दिया फर्टिलाइजर प्लांट 375 करोड़ रुपये में इंडोरामा होल्डिंग्स को बेचेगी।