Moneycontrol » समाचार » बीमा

योर मनीः कहां करें इंश्योरेंस से जुड़ी शिकायत

प्रकाशित Thu, 11, 2016 पर 19:09  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

योर मनी में आज हम आपको निवेश और इंश्योरेंस को लेकर हो रहे धोखेबाजी से सावधान कर रहे हैं। हम आपको आज बताएंगें की कैसे गलत तरीके से लोगों को पॉलिसी और निवेश से जुडी तमाम स्कीम  बेची जाती हैं, और अगर आपके साथ भी ऐसा हुआ है, तो आप कहां शिकायत कर सकते हैं। साथ ही जानेंगे निवेशकों को फर्जीवाड़े से बचाने में कितनी आरबीआई  की नई पहल सचेत कारगार साबित होगी। आज हमारे साथ ही हां आपके इंश्योरेंस से जुड़े सवालों के जवाब दे रही हैं एल जे बिजनेस स्कूल की पूनम रूंगटा।


पूनम रूंगटा के मुताबिक इंश्योरेंस से जुड़ी शिकायतों के लिए आईआरडीए ने आईजीएमएस शुरू किया है। आईजीएमएस यानी इंटीग्रेटिड ग्रिवांस मैनेजमेंट सिस्टम होता है। ग्राहक को पहले कंपनी को शिकायत देना पड़ता है। आईजीएमएस से भी कंपनी को शिकायत भेजी जा सकती है। आईजीएमएस में की गई शिकायत इंश्योरेंस कंपनी और आईआरडीए के पास जाती है। आईजीएमएस पर शिकायतों को ट्रैक भी किया जा सकता है।  आईजीएमएस में शिकायतों को तय समय पर निपटाने की व्यवस्था की जाती है। इंश्योरेंस से जुड़ी शिकायतों के लिए लोकपाल की भी व्यवस्था की गई है।


म्यूचूयल फंड से जुड़े शिकायतों के लिए सबसे पहले म्यूचूयल फंड कंपनी में शिकायत दर्ज कराएं। किसी कारणवंश शिकायत का निपटारा नहीं हुआ तो सेबी के पास जा सकते हैं। तो वहीं आरबीआई ने अवैध रूप से पैसा जमा कराने वालों पर रोक के लिए सचेत नाम की वेबसाइट लॉन्च की है। इसके तहत पैसा जमा करनेवाले कंपनियों की जानकारी मिलती है। सचेत पर फर्जी तरीके से पैसा जुटाने वालों की शिकायत कर सकते हैं। इसके तहत साइट पर शिकायत को ट्रैक भी किया जा सकता है।


पूनम रूंगटा का कहना है कि सचेत से आरबीआई, सेबी, एनएचबी, आईआरडीए जैसे रेगुलेटर जुड़े हैं। साइट पर दर्ज शिकायते संबंधित रेगुलेटर के पास जाती है। जिससे शिकायतकर्ता को एसएमएस और ई-मेल से संबंधित रेगुलटर का पता मिलता है। अगर 30 दिनों के भीतर शिकायत का निपटारा नहीं किया जाता है तो शिकायतकर्ता रिमाइंडर भेज सकते हैं।


सवालः 17 साल के लिए 4000 निवेश करना है, कौन से फंड में पैसा लगाना चाहिए। म्यूचूयल फंड निवेश करना है।
 
पूनम रूंगटाः 17 साल का समय अच्छा है। जैसे लक्ष्य के लिए अच्छी रकम जोडी जा सकती है। लगभग 35 लाख जमा हो सकते हैं। जिसके लिए बिड़ला एमएनसी फंड, फ्रैंकलिन प्राइमा मिडकैप में निवेश करने की सलाह होगी।


वीडियो देखें