Moneycontrol » समाचार » निवेश

योर मनी: बच्चों के भविष्य के लिए फाइनेंशियल प्लानिंग

प्रकाशित Fri, 18, 2017 पर 13:34  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

हम सभी को कभी ना कभी कर्ज के लेने की जरूरत तो पड़ ही जाती है। कर्ज मिलने में इन दिनों बहुत मुश्किल भी नहीं हो रही है। अगर आपके पास क्रेडिट कार्ड है या आप नौकरी पेशा हैं तो लोन तुरंत भी मिल सकता है। ऐसे में सवाल ये है कि क्रेडिट कार्ड पर या पर्सनल लोन लेना सही है। साथ ही कौन से म्युचुअल फंड पर आपको मिलेगा अच्छा रिटर्न। पर्सनल फाइनेंस पर आपकी सभी उलझनों को हम योर मनी में सुलझाएंगे। यहां आपके सवालों का जवाब देने के लिए हैं फाइनेंशियल प्लानर अर्णव पंड्या।


सवाल: मेरी उम्र 33 साल है। परिवार में 2 बच्चे और पत्नी है। मेरी आय 42 हजार रुपये महीना है। मैं आरडी में 2000 रुपये महीना, चिट फंड में 4000 रुपये महीना और म्युचुअल फंड में 5000 रुपये महीना निवेश करता हूं। क्या बच्चों के भविष्य के लिए ये निवेश पर्याप्त है ?


सलाह: टर्म प्लान होने पर एंडोवमेंट प्लान लेने की जरूरत नहीं है। इससे भरे हुए प्रीमियम पर नुकसान होगा। हेल्थ इंश्योरेंस लेना सही कदम है। पर्सनल लोन लेना महंगा होता है, ऐसे कर्ज लेने से बचें। चिट फंड निवेश में रिस्क बहुत ज्यादा होता है, इसमें निवेश से दूर रहें। आपको इतने सारे म्युचुअल फंड्स की जरूरत नहीं। अपने फंड्स की समीक्षा करें। ईएलएसएस फंड पर लॉक-इन पीरियड खत्म होने पर पैसा निकाल लें।


सवाल: बजाज आलियांस का 30 लाख का टर्म प्लान लिया है। जमीन के लिए लोन पर 10,000 की ईएमआई है। बच्चे के लिए दो चाइल्ड प्लान लिए हैं। बच्चों के भविष्य के लिए फाइनेंशियल प्लानिंग कैसे करें?


सलाह: आप फाइनेंशियल प्लानिंग के अहम फैसले ले चुके हैं। आपने सही टर्म प्लान चुना है। चाइल्ड प्लान के लक्ष्य म्युचुअल फंड्स से भी पूरे कर सकते हैं। आपके पोर्टफोलियो के फंड्स अच्छे हैं, इनमें निवेश जारी रखें, भविष्य में निवेश की रकम बढ़ाएं।