Moneycontrol » समाचार » निवेश

योर मनीः क्या है निवेश का पसंदीदा विकल्प!

प्रकाशित Sat, 17, 2016 पर 15:36  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज योर मनी पर हमारा फोकस होगा आपके सवालों पर और जानेंगे कि कार्वी वेल्थ रिपोर्ट में आपेक निवेश से जुड़ी हुई बड़ी दिलचस्प बातें पेश की गई है। जिसमें बताया गया है कि वित्त वर्ष 2016 में एफडी में निवेश 10.50 फीसदी बढ़ा है। यानि कुल मिलाकर लोगों का एफडी में रुझान बढ़ा है। साथ ही अगर हम इक्विटी फंड में निवेश की बात करें तो डायरेक्ट इक्विटी के बजाय लोगों का रुझान म्यूचुअल फंड के जरिए इक्विटी फंड में निवेश पर बढ़ा है। इस पर विस्तार से बात करने के लिए सीएनबीसी- आवाज के साथ कार्वी प्राइवेट वेल्थ के सीईओ, अभिजीत भावे।


अभिजीत भावे का कहना है कि साल 2016 में भारत में निजी संपत्ति 8.5 फीसदी बढ़कर 304 लाख करोड़ पर पहुंची है। नोटबंदी के बाद अगले 5 साल में निजी संपत्ति बढ़कर 558 लाख रुपये करोड़ पर पहुंचने का अनुमान है। फाइनेंशियल एसेट में निवेश 7.14 फीसदी बढ़कर 172 लाख रुपये करोड़ है।


फिजीकल एसेट में निवेश 10.32 फीसदी बढ़कर 132 लाख करोड़ रुपये है। वहीं सोने में 65.90 लाख करोड़ रुपये और प्रॉपर्टी में 55.47 करोड़ रुपये का निवेश होगा। एफडी  और बॉन्ड में निवेश 10.68 फीसदी बढ़कर 36.81 लाख करोड़ रुपये है। इक्विटी में निवेश 13.84 फीसदी घटकर 34.39 लाख करोड़ रुपये हो गई है। म्युचुअल फंड में निवेश 12.95 फीसदी बढ़कर 5.52 लाख करोड़ रुपये हो गई है।