Moneycontrol » समाचार » निवेश

योर मनीः एफडी से ज्यादा रिटर्न कहां मिलेगा

प्रकाशित Sat, 19, 2016 पर 14:53  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

फिक्स्ड डिपॉजिट की घटती दरों के चलते अब समय आ गया है कि आप अपने पोर्टफोलियो में जोखिम ना उठाने वाले निवेश विकल्प के लिहाज से डेट फंड को चुनें। इनमें आपको ब्याज पर कमाई एफडी से ज्यादा होगी और साथ ही अलग-अलग अवधि के लिए पैसे निवेश करने का मौका भी मिलेगा। योर मनी में डेट फंड की पाठशाला के तहत आपको इनमें निवेश करने की तमाम बारिकीयों को समझाने में मदद कर रहे हैं रूंगटा सिक्योरिटीज के हर्षवर्धन रूंगटा।


हर्षवर्धन रूंगटा का कहना है कि डेट फंड बॉन्ड, कॉरपोरेट डिपॉजिट, कमर्शियल पेपर में निवेश करते हैं और इसकी कमाई के दो तरीके यानि कूपन पेमेंट और कैपिटल गेन के जरिए होती है। इसमें ब्याज दरें घटने पर डेट फंड के रिटर्न बढ़ते हैं हालांकि डेट फंड लेते समय क्रेडिट रिस्क, ब्याज और अवधि को ध्यान में रखना जरुरी होता है। निवेश में कितना जोखिम है इसका पता क्रेडिट रिस्क से चलता है। क्रेडिट रेटिंग से बॉन्ड, सीपी और सीडी की क्रेडिट रिस्क का पता चलता है।


हर्षवर्धन रूंगटा का कहना है कि डेट फंड के कई प्रकार है जिसमें लिक्विड-अल्ट्रा शॉर्ट टर्म फंड। इस फंड के तहत बहुत छोटी अवधि के लिए निवेश किया जाता है। इसमें 1 साल के लिए निवेश किया जा सकता है। वहीं इनकम-डायनमिक बॉन्ड फंड 1 से 3 साल के लिए निवेश किया जा सकता है और गिल्ट फंड उन निवेशकों के लिए है जो कम जोखिम ले सकते है। सरकारी सिक्योरिटीज में निवेश किया जा सकता है।


बैंक डिपॉजिट में तयशुदा ब्याज मिलता है वहीं डेट फंड में निश्चित रिटर्न नहीं मिलता है। डेट फंड का रिटर्न बाजार की दरों पर निर्भर होता है। 3 साल से कम के निवेश पर डेट फंड में टैक्स लगता है और 3 साल से ज्यादा के निवेश पर 20 फीसदी इंडेक्सेशन का फायदा मिलता है। वहीं टैक्स स्लैब के हिसाब से एफडी पर टैक्स लगता है।


सवालः 5000 रुपये प्रति माह का निवेश करना है, अच्छे फंड बताएं?
 
हर्षवर्धन रूंगटाः निवेश से पहले जोखिम क्षमता को समझना जरूरी है। साथ ही  निवेश की समय सीमा भी तय करना जरूरी होता है। निवेश पोर्टफोलियो को हर 2 साल में रिव्यू करें। आप फ्रैंकलिन इंडिया ब्लूचिप फंड में 2000 रुपये प्रति माह , आईसीआईसीआई वैल्यू डिस्कवरी फंड में 1000 रुपये माह और एचडीएफसी बैलेंस फंड में 2000 रुपये प्रति माह निवेश कर सकते है।