Moneycontrol » समाचार » आईपीओ खबरें

आरबीआई से एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक को राहत

प्रकाशित Fri, 30, 2017 पर 11:32  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के आईपीओ का आज आखिरी दिन है। इस बीच आरबीआई से एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक को बड़ी राहत मिली है। आरबीआई ने एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक में विदेशी निवेश की सीमा बढ़ाने को मंजूरी दी है।


एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के आईपीओ का प्राइस बैंड 355-358 रुपये है। एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के इश्यू का लॉट साइज 41 शेयरों का है। एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक की आईपीओ से 1896-1912 रुपये तक की पूंजी जुटाने की योजना है। एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक ने एंकर इन्वेस्टर्स से 563 करोड़ रुपये जुटाए हैं।


एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक कमर्शियल व्हीकल फाइनेंस के कारोबार में है। साथ ही एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक छोटे-मझोले बिजनेस को कर्ज देती है। एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक की 11 राज्यों में 301 शाखाएं हैं। वित्त वर्ष 2017 में एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक को 843 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था, जबकि आय 1430 करोड़ रुपये रही थी।


एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक की आगे क्या योजनाएं हैं और आईपीओ के पैसे का कैसे इस्तेमाल किया जाएगा, इस पर सीएनबीसी-आवाज़ से बात करते हुए एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के एमडी, संजय अग्रवाल ने कहा कि आरबीआई की गाइडलाइन के मुताबिक आईपीओ लेकर आ रहा है। साथ ही आईपीओ लाने के लिए मौजूदा समय से बेहतर वक्त नहीं हो सकता है। इसके अलावा लिस्टिंग के बाद गवर्नेंस को लेकर भी ज्यादा सफाई आने की उम्मीद है।


संजय अग्रवाल के मुताबिक एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के आईपीओ को लेकर दुनियाभर में रोड शो किए गए और सभी जगह से अच्छा रिस्पॉन्स देखने को मिला है। पिछले 2 महीनों की अवधि में करीब 140 निवेशकों से मुलाकात की गई है। करीब 100 निवेशकों ने एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक में एंकर निवेशक बनने में दिलचस्पी दिखाई। निवेशकों की इस तरह की दिलचस्पी से आगे भी बेहतर ग्रोथ करने का पूरा भरोसा है। आगे चलकर एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक का ग्राहकों को बेहतर सेवाएं देने पर फोकस रहेगा।