Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

हाइवे पर दुर्घटना, अब समय पर पहुंचेगी मदद

प्रकाशित Thu, 05, 2017 पर 19:26  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

हाइवे पर दुर्घटनाओं से होने वाली मौतों को कम करने के लिए सरकार नया कदम उठाने जा रही है। नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने एक इंसिडेंट मैनेजमेंट प्लान तैयार किया है। जिसमें एंबुलेंस ज्यादा से ज्यादा आधे घंटे में घटना स्थल तक पहुंच जाएगी।


हाइवे पर अगर कोई दुर्घटना हो जाए तो अभी मदद पहुंचने में घंटों लग जाते हैं। लेकिन आने वाले दिनों में ऐसा नहीं होगा। नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने एक इंसिडेंट मैनेजमेंट प्लान तैयार किया है जिसके तहत हाइवे पर हर 50 किलोमीटर की दूरी पर एक एंबुलेंस, एक क्रेन और एक रेस्क्यू वैन तैयार की जाएगी। हाइवे पर जगह-जगह एक इमरजेंसी नंबर डिस्प्ले किया जाएगा जहां पर कॉल करने से मदद घटनास्थल पर पहुंच जाएगी। इसकी शुरुआत उत्तर प्रदेश और राजस्थान से की जाएगी। इस प्रोजेक्ट का पूरा काम थर्ड पार्टी को सौंपा जाएगा जिसकी बिडिंग होने वाली है। सरकार थर्ड पार्टी को हर रेस्क्यू के हिसाब से पेमेंट करेगी।


सड़क दुर्घटनाओं के लिए खराब क्वालिटी की सड़कें भी जिम्मेदार होती हैं। इसलिए अब होटल्स की तरह हाइवे की भी रेटिंग होगी। इसके लिए एनएचएआई एक ऐप बना रहा है। अगर ज्यादा लोगों ने हाइवे को खराब रेटिंग दी तो जवाबदेही इसे बनाने वाले की होगी।


ट्रांसपोर्टर्स का कहना है कि योजनाएं अच्छी हैं लेकिन इन्हें लागू करना चुनौती होगी।


पिछले साल भारत में सड़क दुर्घटनाओं में करीब डेढ़ लाख लोगों की जान गई। अगर इनके पास समय पर मदद पहुंचती तो इनमें से कई लोगों की जान बच सकती थी। उम्मीद है एनएचएआई का जीवन रक्षा का ये प्लान लोगों की जान बचाने में कारगर साबित होगा।