Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

ओवरड्राइव: फ्रैंकफर्ट मोटर शो की 6 सुपर कार की झलक

प्रकाशित Sat, 16, 2017 पर 15:27  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

फ्रैंकफर्ट मोटर शो 2017, दुनिया का सबसे बड़ा मोटर शो। दुनिया भर की दिग्गज कंपनियां इस ऑटो शो में अपनी नई गाड़ियों का वर्ल्ड प्रीमियर करती हैं। इतना ही नहीं ये वही शो है जिसमें कंपनियां अपनी फ्यूचर की कारों की झलक दिखाती हैं। और ऑटो सेक्टर के नए ट्रेंड सेट होते हैं। तो हम आपके लिए लेकर आए हैं फ्रैंकफर्ट मोटर में जलवे बिखेरने वाली 6 सुपर कार।


कॉन्सेप्ट और इलेक्ट्रिक व्हीकल के साथ आपको दिखाते हैं कुछ ऐसी सुपर कार्स जो इस फ्रैंकफर्ट मोटर शो में सबको अपनी ओर खींच रही हैं। लैम्बोर्गिनी ने अपनी एवेंटाडोर एस रोडस्टर को दिखाया। इस कार को एवेंटाडोर एस कूपे के प्लेटफॉर्म और टेक्नोलॉजी को लेकर बनाया गया है। लेकिन ये उनके लिए है जो रफ्तार के साथ ओपन एयर का भी मजा लेना चाहते हैं। इसमें वी12 इंजन लगा है जो 740 हॉर्स पावर ताकत देता है। इसकी टॉप स्पीड 350 किलोमीटर है जो 0 से 100 किलोमीटर की स्पीड महज 3 सेकेंड में छू लेती है। भारत में इसे खरीदने के लिए आपको 5 करोड़ 80 लाख रुपये खर्च करने होंगे।


बेंटली की तरफ से आई नई कॉन्टीनेंटल जीटी, ये एक लग्जरी सुपर कार है। क्योंकि वी12 इंजन के साथ ये खुद ब खुद सुपर कार की कैटेगरी में आ जाती है। कंपनी का कहना है कि इस कार का डिजाइन एक्सट्राऑर्डिनरी है जिसे बनाते वक्त कंपनी ने टेक्नोलॉजी और इनोवेशन पर खास ध्यान दिया है। ये एक ग्रांड टूरर लग्जरी कार है जिसका किसी भी कार से मुकाबला नहीं है। पहली बार कॉन्टीनेंटल जीटी 2003 में लॉन्च हुई थी और ये कार उसी की जगह लेगी। इसमें 6 लीटर का वी12 इंजन लगा है जो 626बीएचपी पावर जेनरेट करता है और रफ्तार है एक स्पोर्ट्स कार की। 100 किलोमीटर की स्पीड 3.7 सेकेंड में छू लेती है और इसकी टॉप स्पीड 333 किलोमीटर है।


ऑडी ने आर8 आरडब्ल्यूएस को दिखाया। वैसे ऑडी अपनी फोर व्हील ड्राइव के लिए जानी जाती है। लेकिन इसे कंपनी ने रीयर व्हील ड्राइव कॉन्सेप्ट पर तैयार किया है। इसलिए इसका नाम आरडब्ल्यूएस रखा गया है। कंपनी इसके 999 यूनिट ही बनाएगी। इसमें 5.2 लीटर का वी10 इंजन लगा है जो 532बीएचपी पावर देता है। ये 0 से 100 किलोमीटर की स्पीड 3.7 सेकेंड में पकड़ लेती है और इसकी टॉप स्पीड 320 किलोमीटर है।


फरारी ने पोर्टोफिनो को दिखाया। ये हार्ड रूफ वाली कन्वर्टेबल ग्रांड टूरर कार है। 3.9 लीटर ट्विन टर्बो इंजन लगा है जो 590 हॉर्स पावर देता है। 0 से 100 किलोमीटर की रफ्तार 3.5 सेकेंड में छू लेती है और इसकी टॉप स्पीड 320 किलोमीटर है। ये कार फरारी कैलिफोर्निया टी की जगह लेगी। लेकिन कीमत के लिहाज से माना जा रहा है कि ये उससे काफी महंगी होगी।


स्पार्क ओवल, जापान की इलेक्ट्रिक सुपर स्पोर्ट्स कार है। कंपनी का दावा है कि ये दुनिया की सबसे तेज रफ्तार से दौड़ने वाली इलेक्ट्रिक कार है। इसमें 1000 हॉर्स पावर देने वाली इलेक्ट्रिक मोटर लगी है जो 100 किलोमीटर की रफ्तार महज 2 सेकेंड में छू लेती है।


सुपर कार में मर्सिडीज ने अपनी एएमजी प्रोजेक्ट वन को पेश किया। इस कार की सबसे बड़ी खासियत है कि इसमें फॉर्मुला वन कार के इंजन और टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है। 1.6 लीटर पेट्रोल इंजन के साथ इसमें 4 इलेक्ट्रिक मोटर का इस्तेमाल भी किया गया है। दोनों का कॉम्बिनेशन 1000 हॉर्स पावर जेनेरेट करता है। यानि ये एक प्लग हाइब्रिड कार है। इसकी टॉप स्पीड 350 किलोमीटर है। कंपनी का कहना है कि इसका 275 यूनिट ही प्रोडक्शन होगा।