Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

सरकार की तरफ से पोर्ट, जूट कंपनियों को बड़ी राहत

प्रकाशित Wed, 03, 2018 पर 15:00  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सरकार ने जूट पैकेजिंग को जरूरी करने का प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इसके अलावा कैबिनेट ने आज पोर्ट सेक्टर के लिए बड़ी राहत दी है। पोर्ट में निजी निवेश आसान करते हुए पोर्ट सेक्टर की  निजी कंपनियों को 100 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की छूट मिल गई है। प्रोजेक्ट पूरा करने के दो साल बाद कंपनियां पूरी हिस्सेदारी बेच सकेंगी।
पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत मॉडल कंसेशन एग्रीमेंट में बदलाव किया गया है। अब कंपनी के राजस्व के आधार पर नहीं बल्कि माल ढुलाई के आधार पर रॉयल्टी देनी होगी। वहीं जमीन का किराया कीमत का 200 फीसदी की बजाय 120 फीसदी लगेगा। टैक्स बढ़ने पर सरकार निजी निवेशकों पर बड़े अतिरिक्त बोझ की भरपाई करेगी।


कैबिनेट ने आज जूट सेक्टर को भी बड़ी राहत दी है जिसके तहत चीनी और अनाज की पैकेजिंग जूट बैग में करना जरूरी कर दिया गया है। अब 90 फीसदी अनाज की पैकेजिंग जूट से बने बैग में करना होगा और 20 फीसदी चीनी की पैकेजिंग जूट से बने बैग में करना होगा। 30 जून 2018 तक पैकेजिंग की नीति को जारी रखने का फैसला लिया गया है।