Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

ब्रांड बाजार: ब्रांड बदल रहे कन्ज्यूमर की जिंदगी

प्रकाशित Sat, 05, 2017 पर 16:51  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आजकल लगभग सभी ब्रांड महिला सशक्तीकरण की बात करतें नजर आते हैं, ऐसे में कुछ ऐसे ब्रांड है जो सचमुच महिलाओं को सशक्त बनाने की राह पर चल पडे हैं। कई ब्रांड नौकरी और टेक्नीकल ट्रेनींग के जरीये महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की बात कर रहें हैं। ऐसा ही एक ब्रांड है सैमसंग। सैमसंग ने अपने सपने हुए बड़े  कैंपेन के तहत जयपुर के सीमा नागर की कहानी बताई और कैसे उन्होने अपने सैमसंग टेक्निकल स्कूल के जरीये उन्हें सशक्त बनाया।


सीमा नागर राजस्थान के एक ऐसे गांव से हैं रहां शुरु से लड़कियों के पैदा होने पर मिठाइयां बटने के बजाय मातम मनाया जाता है। लेकिन इन परंपराओं को तोड़ते हुए सीमा के माता-पिता ने अपने बच्चों को एक समान समझा। बेटा-बेटी को जिंदगी मे कुछ करने के लिए अच्छी तालिम दी। स्कूल खत्म होने के बाद सीमा ने सैमसंग टेक्निकल स्कूल में दाखिला लिया। जहां उसने मोबाइल फोन, ऑडियो विजुअल और होम अप्लायंस के बारे में सिखा। अपना कोर्स खत्म होते ही सीमा ने एक महीने की ऑन-द-जॉब ट्रनिंग ली और जयपुर का सैमसंग सर्विस सेंटर ज्वाइन किया। सैमसंग का ये विज्ञापन  महिला सशक्तीकरण के साथ साथ ये दर्शाता है कि ब्रांड इस सामाजिक मुद्दे पर किस तरह से काम कर रहा है।


पिछले दिनों महिलाओं को अहम रोल में दिखाने वाले कई विज्ञापन दिखे जैसे बोर्नविटा का तैयारी जीत की या फिर हैवेल्स के एड जिसमें महीलाओं को केवल रसोईं तक सीमित ना रखने की बात हो रही है। लेकिन अब ब्रांड महिला सशक्तिकरण के मुद्दे को विज्ञापन से आगे बढ़ा रहे हैं।  नाइक का डा डा डिंग भी खुब चला जहां महिलाओं को एथलीटिक अंदाज में शारीरिक रुप से मजबूत दिखाया गया है, इसके साथ- साथ सच में महिलाओं को मजबूत बनाने के लिये नाइक ने वूमेंस ओनली एनटीसी ट्रेनिंग सेशन शुरु किये हैं जो दुनियाभर ही नहीं हमारे देश में भी महिलाओं को लिए बिकुल मुफ्त है, बस आपको उसके लिये पहले से रजिस्टर करना है।