Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

खतरनाक हो सकते हैं हेल्थ सप्लीमेंट!

प्रकाशित Wed, 03, 2018 पर 16:34  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अगर आप जिम जाते हैं और अलग-अलग तरह के हेल्थ सप्लीमेंट्स लेते हैं तो ये खबर आपके लिए है। फूड रेगुलेटर एफएसएसएआई हेल्थ सप्लीमेंट्स के लिए नए रेगुलेशन लेकर आया है जिसमें सप्लीमेंट्स में इस्तमाल होने वाले कई पदार्थों पर प्रतिबंध भी लगा दिया गया है।


हेल्थ सप्लीमेंट्स, बॉडी बिल्डिंग पाउडर या मल्टी विटामिन्स का इस्तेमाल करने से पहले उसके पैकेट पर एक नजर जरूर डाल लें। कहीं ऐसा तो नहीं कि सप्लीमेंट्स में कुछ ऐसा मिला हो जो आपको इसकी लत लगा दे। फूड रेगुलेटर एफएसएसएआई ने हेल्थ सप्लीमेंट्स को लेकर रेगुलेशन में कई पदार्थ प्रतिबंधित कर दिए हैं।


इनमें फ्लोराइड और पोटेटो प्रोटीन आइसोलेट को फूड सेफ्टी के लिए खतरनाक माना गया है। विलो बार्क एक्सट्रैक्ट और लेमन बाम जैसे पदार्थों पर भी रोक लगाई गई है क्योंकि ये आपको नशे में डाल सकते हैं। इसके अलावा 34 ऐसे पदार्थ हैं जिन्हें एफएसएसएआई पैनल ने डाटा की कमी की वजह से इजाजत नहीं दी है। इनका इस्तमाल करने वाली कंपनियों को चार हफ्ते के अंदर इनसे जुड़ी जानकारियां देनी होंगी।


रेगुलेशन में ये भी कहा गया है कि विटामिन, मिनरल्स या इनके कॉंम्बिनेशन सिर्फ एक डोज प्रतिदिन के हिसाब से दिए जाने चाहिए। इस तरह के रेगुलेशन की जरूरत काफी समय से महसूस की जा रही थी क्योंकि हेल्थ सप्लीमेंट्स में खतरनाक पदार्थों की शिकायतें काफी ज्यादा आ रही थीं। अब रेगुलेशन आने से इनके गलत इस्तेमाल पर रोक लगने की उम्मीद है।