Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

भारतीय फार्मा कंपनियों की मुश्किल बढ़ी, क्या है खबर

प्रकाशित Thu, 04, 2018 पर 15:15  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

यूएसएफडीए ने नवंबर 2017 में सबसे ज्यादा जेनरिक दवाओं को मंजूरी दी है। यूएस में जेनरिक फार्मा पर जोर, कंपिटीशन बढ़ाने, दाम घटाने पर फोकस बढ़ा है। यूएस के इस जोर से भारतीय दवा कंपनियों के लिए मुश्किल बढ़ेगी। जेनरिक दवाओं  पर जोर से भारतीय दवा कंपनियों के लिए कंपिटीशन बढ़ेगा। साथ ही यूएसएफडीए जेनरिक फार्मा की मंजूरी के लिए साइंटिफिक और रेगुलेटरी दिक्कतें दूर करने के लिए भी कदम उठा रही है। इसके अलावा एफडीए के जेनरिक दवा जांच प्रक्रिया को भी सुधारने पर काम हुआ है और नई दवा की मंजूरी प्रक्रिया के लिए नियम तैयार किए गए हैं। इन सब से यूएस में फार्मा में कंपिटीशन बढ़ाने और उसी के चलते दाम घटाने में मदद मिलेगी।