Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

लंबा समय, होटल इंडस्ट्री के लौटे अच्छे दिन

प्रकाशित Tue, 16, 2017 पर 17:28  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

मंदी के बाद अब घरेलू होटल इंडस्ट्री में दोबारा से तेजी आ रही है। इंडस्ट्री 9 साल में अपनी सबसे अच्छी हालत में है। हालांकि इस वजह से होटलों के किराये भी बढ़ने लगे हैं।


लंबे इंतजार के बाद होटल इंडस्ट्री के अच्छे दिन लौट आए हैं। इस ऑफ सीजन में भी होटलों के करीब 65 फीसदी कमरे भरे हुए हैं जो पिछले साल के मुकाबले 4 फ़ीसदी तक ज्यादा हैं। दिल्ली और मुंबई जैसे महानगरों में तो ये तादाद और भी ज्यादा है। इसकी वजह है कॉर्पोरेट मीटिंग्स और विदेशी महमानों की संख्या में बढ़ोतरी। साथ ही साल 2016-17 में जहां होटल के कमरों की सप्लाई 7-8 फीसदी बढ़ी, वहीं उनकी डिमांड 11 से 14 फ़ीसदी तक बढ़ गई।


हालांकि होटल के कमरों की बढ़ती मांग का खामियाजा इसके ग्राहकों को भुगतना पड़ सकता है, क्योंकि मांग बढ़ने के साथ होटल के कमरे भी महंगे हो रहे हैं। पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले होटल 5-10 फीसदी तक ज्यादा किराए ले रहे हैं। छुट्टियों में घूमने-फिरने का प्लान बनाने वालों की संख्या भी इस बार पिछले साल से ज्यादा है।


माना जा रहा है कि इंडस्ट्री के लिए ये अच्छा दौर अगले साल भी जारी रह सकता है। ऐसे में ट्रैवल एक्सपर्ट्स की सलाह है कि छुट्टियां बिताने के लिए रिजॉर्ट की बजाय बिजनेस होटल चुनना या ऑफबीट डेस्टिनेशन पर जाना आपकी जेब पर बोझ कम कर सकता है।