Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

स्कूल फीस पर खत्म होगा टकराव!

प्रकाशित Fri, 08, 2017 पर 09:41  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

महाराष्ट्र में स्कूल फीस में बढ़ोतरी को लेकर अभिभावकों और स्कूल मैनेजमेंट के बीच टकराव को खत्म करने के लिए सरकार की समिति ने कुछ सुझाव दिए हैं। लेकिन अभिभावकों और स्कूलों को ये सुझाव नाकाफी लग रहे हैं।


महाराष्ट्र में स्कूल अपनी मनमानी से फीस नहीं बढ़ा पाएं, इसके लिए सरकार ने नया रास्ता निकाला है। राज्य सरकार द्वारा नियुक्त विशेषज्ञ समिति ने पेरेंट टीचर एसोसिएशन की कार्यकारी समिति में छात्रों के अभिभावकों का प्रतिनिधित्व दोगुना करने की सिफारिश की है।


समिति ने पीटीए कार्यकारी में हर क्लास से दो बच्चों के अभिभावकों को शामिल करने की सिफारिश की है। अभिभावक स्कूल मैनेजमेंट के साथ मिलकर स्कूल की फीस बढ़ाने पर सहमति बनाएंगे। समिति के मुताबिक स्कूल दो साल में 15 फीसदी से ज्यादा फीस नहीं बढ़ा सकते। अगर अभिभावक और स्कूल मैनेजमेंट के बीच सहमति नहीं बनती है तो वो डिवीजनल फी रेग्युलेटरी कमिटी यानि डीएफआरसी में अपील कर सकेंगे। वहीं डीएफआरसी को किसी भी स्कूल के खिलाफ फीस बढ़ोतरी को लेकर बिना शिकायत खुद से कार्रवाई करने की अनुमति भी देने की बात है।


हालांकि अभिभावकों का कहना है कि इन सिफारिशों से स्कूलों की मनमानी पर रोक नहीं लग पाएगी। वहीं स्कूल भी सरकार की सिफारिशों से खुश नहीं हैं। उनका कहना है कि कार्यकारी समिति में अभिभावकों की संख्या बढ़ाने से सिर्फ कंफ्यूजन बढ़ेगा।