Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आम निवेशक हैरान, क्यों गिर रहे हैं दुनियाभर के बाजार

प्रकाशित Tue, 06, 2018 पर 11:34  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बाजार में आज की गिरावट से आम निवेशक हैरान है, उसे समझ नहीं आ रहा है कि महज चंद दिनों में ऐसा क्या बदल गया कि लगातार भाग रहा बाजार औंधे मुंह गिर गया। हम निवेशकों की इसी उलझन को दूर करने की कोशिश कर रहे हैं।


दरअसल बाजार बढ़ी बॉन्ड यील्ड से डर गया है। बॉन्ड यील्ड, यानि बॉन्ड पर मिलने वाला रिटर्न होता है। बॉन्ड यील्ड बढ़ने का मतलब बॉन्ड से ज्यादा कमाई और अमेरिका में बॉन्ड यील्ड 4 साल के उच्चतम पर पहुंच गई है। जर्मन बॉन्ड में भी उछाल दिखा है, जबकि भारत में भी 10 साल के बॉन्ड की यील्ड बढ़ी है।


दरअसल ब्याज दरें बढ़ने से शेयर महंगे और बॉन्ड आकर्षक लगते हैं। ब्याज दरें बढ़ने से कंपनियों की लागत बढ़ेगी। साथ ही कंपनियों के मार्जिन और मुनाफे पर दबाव मुमकिन है। बॉन्ड यील्ड बढ़ने से ग्रोथ की रफ्तार धीमी होने का खतरा है। गाड़ी और घर खरीदना महंगा होगा। वहीं लिक्विडिटी कम होने से फिक्स्ड इनकम में निवेश बढ़ सकता है।