Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

बुलेट ट्रेन के साथ ही भारत-जापान रिश्तों का नया दौर

प्रकाशित Thu, 14, 2017 पर 16:28  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बुलेट ट्रेन के शिलान्यास के साथ भारत और जापान के रिश्तों में नया दौर शुरू होता दिख रहा है। आज हाईलेवल मुलाकात के बाद रिश्तों की डोर को और मजबूत करने की बात हुई। भारत-जापान साझा बयान में आतंकवाद और उत्तर कोरिया की चुनौती का मसला छाया रहा। साझा बयान में आतंकवाद को खत्म करने के लिए भारत-जापान में सहयोग बढ़ाने पर बात हुई। इसके अलावा 15 समझौतों पर दस्तखत हुए। इसमें सामरिक, ओपन स्काई, कारोबार, शिक्षा, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, खेल जैसे तमाम मुद्दे शामिल है।


हिन्द-प्रशांत महासागर में चीन की चुनौती से निपटने के लिए दोनों के बीच हिन्द-प्रशांत क्षेत्र में सहयोग को मजबूत बनाने पर सहमति बनी। शिंजो आबे ने मालाबार त्रिपक्षीय नौसैनिक अभ्यास का हवाला देते हुए कहा कि जापान-भारत-अमेरिका सहयोग को और मजबूत किया जाएगा। इसके अलावा 26/11 अटैक और पठानकोट हमले के गुनहगारों को भी सजा दिलाने की बात हुई। सांस्कृति अदान-प्रदान बढ़ाने पर भी काफी जोर दिया गया है। 100 संस्थाओं में जापानी भाषा सिखाई जाएगी साथ ही भारत में जापानी खाने के लिए फूड चेन भी खोले जाएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत -जापान की दोस्ती एशिया में शांति के लिए काफी अहम है।


इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने इंडिया-जापान समिट में हिस्सा लिया। समिट में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत और जापान की मजबूत दोस्ती एशिया के लिए महत्वपूर्ण है।