Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

प्रधानमंत्री ने लॉन्च किया भीम-आधार पेमेंट सिस्टम

प्रकाशित Sat, 15, 2017 पर 11:59  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

भीमराव अंबेडकर की 126वीं जयंती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागपुर को कई तोहफे दिए, जिसमें शामिल हैं कोराडी थर्मल पावर स्टेशन, आईआईटी, आईआईएम और एम्स। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को डिजिटल पेमेंट का तोहफा भी दिया। प्रधानमंत्री ने भीम ऐप से जुड़े एक नए पेमेंट सिस्टम का उद्घाटन किया, भीम ऐप के साथ रेफरल कार्यक्रम शुरू करने की घोषणा भी की, इसके तहत उन्‍होंने कहा कि यदि आप दूसरों को इसके साथ जोड़ते हैं तो आपको 10 रुपये प्रोत्‍साहन राशि दी जाएगी, भीम एप पेंमेंट सिस्टम बिना मोबाइल के काम करेगा। इसके लिए स्मार्ट फोन की भी जरूरत नहीं होगी।


वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये भी कहा कि भीम ऐप आर्थिक बदलाव का महारथी बनने वाला है। उन्होंने कहा कि भीम ऐप दुनिया में मिसाल बनेगा और पूरी दुनिया के हर देश को इसे अपनाना चाहिए।


हम आपको बता दें कि आखिर ये भीम-आधार ऐप किस तरह काम करेगा। भीम ऐप को आधार से जोड़ा जाएगा और इसके लिए बैंक अकाउंट नंबर आधार से जुड़ा होना चाहिए। दुकानदार के पास भीम-आधार का मोबाइल ऐप होना चाहिए। ऐसे में सिर्फ अंगूठा लगाते ही ट्रांजैक्शन हो जाएगा। बायोमेट्रिक डाटा की मदद से ट्रांजैक्शन पूरा होगा और बिना किसी कार्ड के पेमेंट संभव हो पाएगा। 27 बड़े बैंक भीम ऐप से पहले से ही जुड़ गए हैं।


भीम-आधार से आपको कैश रखने की जरूरत नहीं होगी। क्रेडिट-डेबिट कार्ड की भी जरूरत नहीं होगी और ई वॉलेट की भी जरूरत नहीं होगी। पेमेंट के लिए स्मार्टफोन की भी जरूरत नहीं होगी। साथ ही ट्रांजैक्शन चार्ज की झंझट से भी छुटकारा मिलेगा।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिधन योजना और डिजिधन व्यापार योजना के विजेताओं को भी इनाम दिया। महाराष्ट्र की लातूर की रहने वाली श्रद्धा मोहन मैनशेट्टी को 1 करोड़ रुपये का पुरस्‍कार मिला। श्रद्धा के पिता एक छोटी सी किराने की दुकान चलाते हैं। दूसरा पुरस्कार गुजरात के चिमनभाई प्रजापति को मिला जबकि तीसरा पुरस्कार उत्‍तराखंड में देहरादून के रहने वाले भरत सिंह को मिला।