Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

ग्रोथ पर आलोचकों को पीएम मोदी का जवाब

प्रकाशित Wed, 04, 2017 पर 19:06  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज पूरे रंग में दिखे। ईमानदारी की नसीहत से शुरूआत करते हुए उन्होंने ग्रोथ पर विपक्ष के सवालों का भी करारा जवाब दिया। उन्होंने विपक्ष पर भी पलटवार किया और कहा कि एक तिमाही में ग्रोथ गिरने से कुछ लोगों को मौका मिल गया है लेकिन जल्द ही ग्रोथ पटरी पर आएगी और विरोधियों को खुद जवाब मिल जाएगा।


आईसीएसआई यानी इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज ऑफ इंडिया की गोल्डन जुबली समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी और जीएसटी पर बात की। पीएम मोदी ने 8 नवंबर को भ्रष्टाचार मुक्ति का प्रारंभ दिवस बताया। सरकार की उपलब्धियां गिनवाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार में सभी कंपनियों से कानून का पालन करने की अपील करते हुए कहा कि देश का कॉरपोरेट कल्चर कैसा हो वह कंपनियां तय करती है। जरुरत है कि इस कॉरपोरेट कल्चर मजबूत हो उसके लिए कंपनियों को पारदर्शिता बनाए रखनी होगी।


उन्होंने आगे कहा कि देश के विकास में योगदान देने वालों को नमन करता हूं। कुछ तत्व देश को कमजोर करने का काम करते हैं। लेकिन मौजूदा सरकार ने कालेधन के खिलाफ कठोर ब्लैकमनी एक्ट बनाया और नोटबंदी, जीएसटी को लागू करने की हिम्मत दिखाई है। मौजूदा समय में ब्लैकमनी के लेनदेन पर अब लोग 50 बार सोचते हैं।


इकोनॉमी पर बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इकोनॉमी ठीक रास्ते पर है लोगों में बेवजह निराशा फैलाई जा रही है। कालेधन को लेकर सबसे ज्यादा काम किया गया। उन्होंने आगे कहा कि सिर्फ 1 तिमाही से ग्रोथ का अनुमान लगाना गलत है। अगली तिमाही में ग्रोथ की रफ्तार अपने पटरी पर वापस लौटेगी।