Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आरबीआईः मंहगाई बनी चिंता, दरों में नहीं किया बदलाव

प्रकाशित Wed, 06, 2017 पर 16:56  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आरबीआई की क्रेडिट पॉलिसी सीएनबीसी-आवाज़ के पोल के मुताबिक ही रही। कर्ज सस्ता नहीं हुआ और न ही आपकी ईएमआई घटी। आरबीआई ने दरों में कोई बदलाव नहीं किया। रेपो रेट 6 फीसदी और रिवर्स रेपो रेट 5.75 फीसदी पर बरकरार रखा। आरबीआई ने मार्जिनल स्टैंडिंग फैसिलिटी यानि एमएसएफ दर को 6.25 फीसदी पर बरकररार रखा है। पॉलिसी के बाद बाजार में भारी गिरावट आई है। आखिर क्या दिक्कतें हैं आरबीआई की राह में और इस पॉलिसी के बाद आगे बाजार की चाल कैसी रहेगी।


आरबीआई ने जीवीए ग्रोथ का अनुमान 6.7 फीसदी पर बरकरार रखा है। आरबीआई के मुताबिक दूसरी छमाही में रिटेल महंगाई दर 4.2-4.6 फीसदी रहने का अनुमान है। एमपीसी कमिटी के 6 में से 5 सदस्य दरों में बदलाव नहीं करने के पक्ष में थे, जबकि रविंद्र ढोलकिया ने दरों में 0.25 फीसदी की कटौती करने के पक्ष में वोट किया।


आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल ने खाद्य और फ्यूल महंगाई पर चिंता जताई है। वहीं क्रेडिट पॉलिसी पर एचडीएफसी के वाइस चेयरमैन और सीईओ केकी मिस्त्री का कहना है कि रेट कट न होना उनकी उम्मीद के मुताबिक है। सुंदरम म्युचुअल फंड के सीईओ सुनील सुब्रमण्यम का कहना है कि शेयर बाजार बेवजह परेशान हो रहा है। आरबीआई की क्रेडिट पॉलिसी लंबे समय के लिए अच्छी है।