Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

सोसायटी बिल पर जीएसटी का कंफ्यूजन दूर

प्रकाशित Fri, 08, 2017 पर 19:21  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सोसायटी मेंटीनेंस चार्ज के तौर पर अगर आप हर महीने 5,000 रुपये  तक देते हैं तो कोई जीएसटी चुकाने की जरूरत नहीं है। सरकार ने इस बारे में सफाई जारी की है। अभी तक हाउसिंग सोसायटी के मेंटेनेंस बिल पर जीएसटी को लेकर कंफ्यूजन बना हुआ था।


अगर आप सोसायटी में रहते हैं। और सोसायटी मेंटीनेंस चार्ज हर महीने 5 हजार रुपये या इससे कम है। तो इसका बिल गौर से देखें। कहीं इसमें जीएसटी तो नहीं जुड़ा है। क्योंकि सरकार ने साफ किया है कि महीने में 5 हजार रुपए या इससे कम के सोसायटी मेंटीनेंस चार्ज पर कोई जीएसटी नहीं लगेगा।


सोसायटी मेंटीनेंट चार्ज में सिक्योरिटी फी, लिफ्ट मेंटीनेंट, कॉमन एरिया मेंटीनेंस जैसी चीजें शामिल होती हैं। सीएनबीसी आवाज के हाथ ऐसे बिल लगे हैं जहां सोसायटी मेंटीनेंस चार्ज 5 हजार रुपए महीने से कम है लेकिन 18 फीसदी जीएसटी वसूला जा रहा है। अगर आपके साथ भी ऐसा हुआ है तो आप रीफंड मांग सकते हैं।


अगर सोसायटी मेंटीनेंस चार्ज 5 हजार रुपये से ज्यादा है तो भी जरूरी नहीं कि आपको जीएसटी देना ही होगा। सरकार की सफाई में कहा गया है कि अगर मेंटीनेंस चार्ज के तौर पर सोसायटी की साल में कुल वसूली 20 लाख रुपये से कम है तो सोसायटी को जीएसटी के तहत रजिस्टर्ड होना जरूरी नहीं है। अगर सोसायटी की ओर से सरकारी बिजली या पानी की सप्लाई की जाती है तो उस पर भी कोई जीएसटी नहीं लगेगा। तो अगली बार जैसे ही सोसायटी मेंटीनेंट का बिल आए तो इन बातों को जरूर गौर से देखें।