Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

ब्रांड पर से भरोसा उठना सबसे बड़ा खतरा: केपीएमजी

प्रकाशित Mon, 17, 2017 पर 19:25  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आप बिजनेस करते हैं या बिजनेस करना चाहते हैं तो आज जान लीजिए देश की बड़ी 130 कंपनियों को चलाने वाले दिमागों में क्या चल रहा है। आखिर क्या सोचते हैं देश के सीईओ? क्या है उनकी रणनीति? इन सबका खुलासा हुआ है केपीएमजी सीईओ आउटलुक इंडिया रिपोर्ट में। रिपोर्ट के मुताबिक पूरी दुनिया के मुकाबले भारतीय इकोनॉमी की ग्रोथ रेट ज्यादा रहेगी। सीईओ कहते हैं कि बदलती आर्थिक और राजनीतिक नीतियों के बीच कामयाबी का एक ही मूल मंत्र है खुद को बदलो और आगे बढ़ो।


देश के 130 सीईओ के बीच कराए गए केपीएमजी के इस सर्वे के मुताबिक 88 फीसदी सीईओ का मानना है कि भारत में सबसे तेज दर से ग्रोथ होगी। इस रिपोर्ट का कहना है कि आधे से ज्यादा कंपनियां 3 साल में बदल सकती हैं, बदलती तकनीक सबसे अहम चुनौतियों में से एक और ब्रांड पर से भरोसा उठना कंपनियों के लिए सबसे बड़ा खतरा है।


इस सर्वे में शामिल 54 फीसदी सीईओ का कहना है कि वे अपनी कंपनी को पूरी तरह बदल देंगे, 63 फीसदी भागीदारों का कहना है कि अगले 3 साल में तकनीक पर बड़ा खर्च करेंगे, 53 फीसदी भागीदारों का कहना है कि बदलती तकनीक के साथ तालमेल मुश्किल है, 80 फीसदी भागीदारों का कहना है कि नई तकनीक बाधा नहीं अवसर है। इस सर्वे में शामिल 85 फीसदी सीईओ का कहना है कि डाटा एनालिसिस पर खर्च बढ़ाएंगे, 84 फीसदी सीईओ का कहना है कि ग्रोथ के लिए साइबर सुरक्षा अहम है वहीं 97 फीसदी सीईओ का कहना है कि वे उपभोक्ताओं के मुताबिक बदलेंगे।