खतरे में है आपका बच्चा, खिलौने से दूर रखिए -
Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

खतरे में है आपका बच्चा, खिलौने से दूर रखिए

प्रकाशित Wed, 19, 2017 पर 18:27  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जिन खिलौनों से आपका बच्चा खेल रहा हो वो उसे बीमार कर दें। इलेक्ट्रॉनिक वेस्ट को रिसायकल कर बने प्लास्टिक वाले खिलौनों में खतरनाक केमिकल पाए गए हैं। यह बात निकल कर आई है 26 देशों में हुए एक सर्वे से जिसमें भारत भी शामिल है। सर्वे के मुताबिक 90 फीसदी सैंपल्स में ऑक्टाबीडीई और डेकाबीडीई जैसे खतरनाक केमिकल पाए गए जबकि लगभग 43 फीसदी सैंपल्स में एचबीडीसी नाम का बहुत ही खतरनाक कैमिकल पाया गया।


अंतरराष्ट्रीय संस्था आईपीईएन ने 26 देशों में सर्वे किया। सर्वे के मुताबिक ई-वेस्ट से बने खिलौने बच्चों के लिए खतरनाक बताएं गये है। अंतरराष्ट्रीय संस्था आईपीईएन के अनुसार सर्वे में बच्चों के खिलौनों में ऑक्टाबीडीई और डेकाबीडीई जैसे खतरनाक केमिकल मिलाया जाता है और इन सब में एचबीडीसी नाम का बहुत ही खतरनाक केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है। ई-वेस्ट से बने खिलौने से बच्चों के मानसिक विकास पर बुरा असर पड़ सकता है।


सर्वे के अनुसार बच्चों के 90 फीसदी खिलौनों के सैंपल में ऑक्टाबीडीई और डेकाबीडीई केमिकल पाया गया है। वहीं 43 फीसदी सैंपल में एचबीसीडी केमिकल पाया गया। यह केमिकल इलेक्ट्रिक इक्विपमेंट में पाये जाते है जो बच्चों हर्मोन सिस्टम और नर्वस सिस्टम के लिए खतरनाक साबित होता है।


ओक्टाबीडीई का सुरक्षित स्तर 50 पीपीएम है लेकिन भारतीय खिलौनों में ओक्टाबीडीई का स्तर 336 पीपीएम तक पाया जाता है। वहीं एचबीसीडी का स्तर 100 पीपीएम से कम होना चाहि लेकिन दूसरे देशों में इसका स्तर ज्यादा पाया गया।


प्लास्टिक रिसाइकिलिंग पर  स्पष्ट नियमों का अभाव पाया गया है। देश में सिर्फ 178 रिसाइकिलिंग यूनिट ही है जिसमें 70 फीसदी रिसाइकिलिंग अनऑर्गनाइज सेक्टर में काम कर रही है।