Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड विशेषज्ञ

कौन से फंड देंगे कम जोखिम के साथ रिटर्न

प्रकाशित Tue, 07, 2017 पर 16:45  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रिटायर होने के बाद कहां करें निवेश, क्या हैं आर्बिट्रेज फंड में निवेश के फायदे और एसटीपी के जरिए निवेश करना क्या होगा फायदेमंद आइए इन तमाम मुद्दों पर लेते हैं आनंद राठी फाइनेंशियल के फिरोज अजीज की राय।


सवालः मेरी उम्र 59 साल है। मुझे 10 से 15 साल के लिए म्युचुअल फंड में निवेश करना है, लेकिन ज्यादा जोखिम नहीं ले सकता हूं, कौन से फंड में निवेश करुं?


सलाहः रिटायरमेंट का लक्ष्य सबसे पहले तय करना जरूरी है। रिटायरमेंट का लक्ष्य तय करते समय मेडिकल खर्चों को ध्यान में रखें। अगर कोई जिम्मेदारी नहीं है तो आप 60 फीसदी पैसा इक्विटी में लगाए और बाकी 40 फीसदी पैसा बैलेंस या डेट म्युचुअल फंड में लगाएं। आप लिक्विड फंड या एक्रुअल फंड में भी निवेश कर सकते हैं। जब जरूरत हो तब लिक्विड फंड से पैसा निकाला जा सकता है। आप निवेश के लिए एसबीआई ब्लूचिप फंड, आईसीआईसीआई प्रु वैल्यू डिस्कवरी फंड, कोटक सेलेक्ट फोकस, एसबीआई मैग्नम मिडकैप फंड और फ्रैंकलिन इंडिया प्राइमा फंड देख सकते हैं। 


सवालः मेरी उम्र 33 साल है। परिवार में पत्नी और 2 साल का बेटा है। मेरे पास 50 लाख रुपये का कोटक टर्म प्लान है और 15 साल के लिए युलिप प्लान है जिसमें सालाना 30 हजार रुपये निवेश करता हूं। 1 करोड़ रुपये का निवेश करना है, करीब 10-15 फीसदी सालाना रिटर्न चाहिए, ज्यादा जोखिम लेने की क्षमता नहीं है, कहां निवेश करना बेहतर होगा?


सलाहः इक्विटी में 70 फीसदी और डेट में 30 फीसदी पैसा निवेश करें। म्युचुअल फंड में निवेश से 12-13 फीसदी रिटर्न मुमकिन है। इंश्योरेंस और निवेश को अलग-अलग रखे और लिक्विड फंड की बजाय आर्बिट्रेज फंड में पैसा लगाएं। नियमित आय के लिए आप एचडीएफसी प्रुडेंस फंड में पैसा लगा सकते है और निवेश के लिए आईसीआईसीआई प्रु फोकस ब्लूचिप इक्विटी, बिड़ला एसएल फ्रंटलाइन इक्विटी, एचडीएफसी मिडकैप ऑप. फंड और एसबीआई मैग्नम मिडकैप फंड देख सकते हैं।