Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » राजनीति

यूपी के किसानों का कर्ज होगा माफ, वादा निभाएगी बीजेपी सरकार

प्रकाशित Sat, 11, 2017 पर 18:18  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

2014 लोकसभा चुनावों वाली मोदी की आंधी एक बार फिर यूपी-उत्तराखंड में नजर आई है। दोनों राज्यों की जनता ने होली से पहले केसरिया होली मना दी है। यूपी में बीजेपी ने 300 से ज्यादा सीटें जीती हैं, उत्तराखंड में दो तिहाई बहुमत मिला है। हार से परेशान अखिलेश यादव ने बीजेपी पर वोटर्स के बहकाने का आरोप लगाया तो वहीं बौखलाई मायावती ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप लगा रही हैं।


हालांकि पंजाब ने कांग्रेस और राहुल गांधी की लाज रख ली है। पार्टी को यहां दो तिहाई बहुमत मिला है। गोवा और मणिपुर में कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर दिख रही है, लेकिन लगता नहीं कि किसी को बहुमत मिल पाएगा। चुनावों की एक और दिलचस्प बात कि आम आदमी पार्टी के सारे दावे खोखले साबित हुए हैं।


अपने चुनावी वादों पर बात करते हुए अमित शाह ने साफ किया है कि उनकी सरकार पहली कैबिनेट बैठक में छोटो किसानों के कर्ज माफी पर प्रस्ताव जारी करेगी। यूपी चुनाव में बीजेपी के शानदार प्रदर्शन पर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने इसे आजादी के बाद की सबसे बड़ी जीत बताया। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के फैसले पर जनता पीएम मोदी के साथ चट्टान की तरह खड़ी रही।


बीजेपी को मिली शानदार तेजी ने कार्यकर्ताओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है। राजधानी दिल्ली में बीजेपी हेडक्वार्टर में होली से पहले ही होली मनाई जा रही है। वहीं उत्तर प्रदेश में बीजेपी को मिली शानदार जीत पर प्रधानमंत्री मोदी ने जनता शुक्रिया अदा किया है। पीएम मोदी ने ट्वीट करके कहा कि काशी के सांसद के रूप में काशी की जनता का अटूट विश्वास और अपार प्रेम पाकर मैं आज अभिभूत हूं। काशी के लोगों को शत-शत नमन। हमारा हर काम, जीवन का हर एक पल भारत के लोगों के कल्याण और भलाई के लिए है। हम 125 करोड़ भारतीयों की शक्ति पर विश्वास करते हैं।


पीएम मोदी ने कहा कि उत्तराखंड की जीत बेहद खास है। देवभूमि के लोगों का आभार। मैं विश्वास दिलाता हूं कि भाजपा पूरी तत्परता और कमर्ठता से लोगों की सेवा करेगी। समाज के सभी वर्गों और युवाओं से बीजेपी को मिले अप्रत्याशित समर्थन से बेहद खुश हूं। जमीन पर अथक प्रयास कर लोगों का विश्वास जीतने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं की कड़ी मेहनत को मेरा सलाम।


पांच राज्यों में चुनाव नतीजों के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली का इंटरव्यू सबसे पहले सीएनबीसी-आवाज़ ने किया। वित्त मंत्री ने कहा है कि ये मोदी सरकार का काम है जिसके कारण एसपी, बीएसपी और कांग्रेस का वोटबैंक बीजेपी की तरफ खिसक गया है। उन्होंने कहा कि परंपरागत वोट में भारी बढ़ोतरी हुई है और गरीब का वोट बीजेपी के खाते में आया है। बीजेपी ने टैक्स चोरी की व्यवस्था को बदला है और सरकार को समय-समय पर अलग फैसले लेने पड़ते हैं। सरकार की छवि ईमानदारी वाली रही है।


पंजाब में हुई हार पर वित्त मंत्री ने कहा कि पंजाब में काफी विकास हुआ है और राज्य में हार इतनी बड़ी नहीं है। वहीं वित्त मंत्री ने यूपी में किसानों के कर्ज माफी पर कहा कि इस पर सरकार बनने के बाद फैसला लिया जाएगा।


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हार तो मान ली है, लेकिन उन्होंने बीजेपी पर व्यंग करते हुए कहा कि कभी-कभी बहकावे से भी वोट मिल जाते हैं। अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार की नोटबंदी योजना पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ये देखना होगा कि नोटबंदी से गरीबों को कितना फायदा होगा। ईवीएम में गड़बड़ी के मामले पर अखिलेश ने मायावती के सुर में सुर मिलाया है। उन्होंने कहा कि मायावती ने मांग की है तो ईवीएम की जांच कराई जानी चाहिए।


दरअसल करारी हार के बाद बसपा प्रमुख मायावती ने पूरे चुनाव पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं। उन्होंने कहा है कि बीजेपी ने ईवीएम में छेड़छाड़ की है। मायावती ने चुनाव रद्द करने की भी मांग की है।


इधर, उत्तर प्रदेश में बुरी तरह हारने के बाद समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के नेताओं ने एसपी और कांग्रेस गठबंधन पर सवाल उठा दिए हैं। इन नेताओं का कहना है कि इस पर दोनों पार्टियों को चिंतन करने की जरूरत है।


उत्तर प्रदेश से आगे बढ़ते हैं और अब बात करते हैं पंजाब की, जहां से कांग्रेस के लिए अच्छी खबर आई है। पंजाब में कांग्रेस की सरकार बनेगी और ड्रग्स के खिलाफ कार्रवाई सरकार की प्राथमिकता सूची में सबसे ऊपर है, ये कहना है पार्टी के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का। हालांकि नवजोत सिंह सिद्धू को डिप्टी सीएम बनाने के सवाल को कैप्टन ने आलाकमान पर टाल दिया।


नवजोत सिंह सिद्धू ने विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा कि पंजाब कांग्रेस की जीत से बड़बोले और अहंकारी अकालियों का नाश हुआ और लोगों ने धर्म को जिताया।