उत्तर प्रदेश के 21वें मुख्यमंत्री बने योगी आदित्यनाथ -
Moneycontrol » समाचार » राजनीति

उत्तर प्रदेश के 21वें मुख्यमंत्री बने योगी आदित्यनाथ

प्रकाशित Mon, 20, 2017 पर 08:13  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

योगी आदित्यनाथ ने देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश के 21वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। उनके साथ केशव मौर्य और दिनेश शर्मा ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली। लखनऊ के स्मृति उपवन में हुए समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, अमित शाह और लालकृष्ण आडवाणी समेत मंच पर शिवराज सिंह चौहान, नितिन गडकरी, उमा भारती, रविशंकर प्रसाद जैसे बड़े नेता उनके शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे थे। वहीं सपा नेता मुलायम सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी शपथ ग्रहण में पहुंचे, जिनसे सभी नेता गर्मजोशी से मिले।


यूपी में के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में 22 कैबिनेट मंत्री, नौ मंत्री स्वतंत्र प्रभार और 14 विधायक राज्यमंत्री के रूप में काम करेंगे। आदित्यनाथ की कैबिनेट में श्रीकांत शर्मा, सुरेश खन्ना, रीता बहुगुणा जोशी, सिद्धार्थ सिंह, रमापति शास्त्री, लक्ष्मीनारायण चौधरी, चेतन चौहान, सूर्य प्रताप शाही, सतीश महाना, दारा सिंह चौहान और सत्य देव पचौरी शामिल हैं। इसके अलावा स्वामी प्रसाद मौर्य, राजेश अग्रवाल, धर्मपाल सिंह, एस पी सिंह बघेल, जय प्रताप सिंह, ओम प्रकाश राजभर, बृजेश पाठक, राजेन्द्र प्रताप सिंह मोती सिंह, मुकुट बिहारी वर्मा, आशुतोष टंडन, नंद कुमार नंदी ने यूपी कैबिनेट के नया चेहरा होंगे।


वहीं, योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह को और यादगार बनाने के लिए नौ राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हुए। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू इस मौके पर शरीख हुए। इसके अलावा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी इस मौके पर मौजूद थे।


यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि सरकार सबका साथ सबका विकास एजेंडे पर चलेगी। और इसकी आपने एक झलक हमारे मंत्रिमंडल में भी देखी होगी। योगी ने ये भी कहा कि बिना भेदभाव के सबका विकास करेंगे। इसके लिए सरकार को जवाबदेह बनाया जाएगा। योगी आदित्यानाथ का ये भी कहना है कि वह किसानों के हित में काम करेंगे। इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि महिला सशक्तिकरण पर जोर दिया जाएगा और महिलाओं को समान अवसर दिए जाएंगे।


यूपी की नई टीम को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि योगी आदित्यनाथ, केशव प्रसाद मौर्य, दिनेश शर्मा जी और उन सभी को बधाई जिन्होंनें शपथ ली है। इन सभी को यूपी में काम करने और जनता की सेवा करने के लिए शुभकामनाएं।


पीएम मोदी ने ये भी ट्वीट किया कि मुझे पूरा भरोसा है कि ये नई टीम उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। उत्तर प्रदेश में रिकॉर्ड विकास होगा। लोगों के आशीर्वाद और बीजेपी कार्यकर्ताओं की कठिन मेहनत के बल पर बीजेपी ने 5 विधानसभा चुनावों में से 4 राज्यों में सरकार बनाने में सफलता हासिल की है। पार्टी और सरकार का एकमात्र लक्ष्य विकास है और जब भी उत्तर प्रदेश में विकास हुआ है देश का विकास हुआ है।


इधर केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा ने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली। यूपी के इतिहास में ये पहला मौका है जब उत्तर प्रदेश में दो-दो उपमुख्यमंत्री बने हैं। केशव प्रसाद मौर्य ने बीजेपी की यूपी में जीत की बड़ी भूमिका अदा की और उसका इनाम उन्हें मिला है। वहीं लखनऊ के पूर्व मेयर रह चुके दिनेश शर्मा को उनके राजनीतिक अनुभव का फायदा मिला है।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में एक दिलचस्प नजारा देखने को मिला। चुनाव की सारी तल्खी को भूलते हुए प्रधानमंत्री मोदी और अखिलेश यादव एक दूसरे के साथ गर्मजोशी से मिले। अखिलेश ने पीएम मोदी को यूपी में जीत के लिए बधाई दी। मुलायम यादव को भी पीएम ने गर्माजोशी से गले लगाया।


इधर, बीएसपी प्रमुख मायावती ने योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा है कि केशव प्रसाद मौर्य के बजाए योगी आदित्यनाथ को यूपी सीएम बनाना पिछड़े वर्ग के साथ धोखा है।