Moneycontrol » समाचार » प्रॉपर्टी

इंडिया रियल एस्टेटः पार्किंग नियमों पर एक्सपर्ट की राय

प्रकाशित Mon, 19, 2017 पर 18:11  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

देश में रेरा लागू हो गया है लेकिन आज भी घर खरीदारों की ओर से ढ़ेरो शिकायत मिलती है कि पार्किंग के नाम पर बिल्डर कंज्यूमर पर दबाव डालते है कि वह पार्किंग खरीदें। कौन सी पार्किंग बेची जा सकती है और कौन सी पार्किंग को लेकर क्या नियम है और रेरा अस नियम पर क्या कहता है।


कंज्यूमर मामलों के वकील उदय वावीकार का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट ने साफ तौर पर कहा है कि जहां एफएसआई यूटिलाइस होती है वहां पार्किंग की जगह बेच सकते है और जहां एफएसआई यूटिलाइस नहीं है उन जगहों को पार्किंग के लिए नहीं बेचा जा सकता है। हालांकि रेरा ने बिल्डरों को छूट दे दी है कि वह स्टील पार्किंग बेच सकते है। लेकिन आप ओपन पार्किंग जगहों को नहीं बेच सकते है। जिसके चलते केवल निश्चित पार्किंग ही बिक सकती है।


हाउसिंग एक्टिविस्ट रमेश प्रभु का कहना है कि जिन बिल्डिंग को ओसी मिल चुकी है वहां रेरा लागू नहीं होता। रेरा नए प्रोजेक्ट पर लागू किया जा रहा है जिसमें कवर पार्किंग को बेचा जा सकता है। लेकिन ओपन पार्किंग को बेच नहीं सकतें।


आर आर ग्लोबल के एमडी श्रीगोपाल काबरा के अनुसार पार्किंग की समस्या की सबसे ज्यादा जिम्मेदारी सरकार की है उसके बाद कहीं बिल्डर और कंज्यूमर की है। लेकिन अक्सर देखा गया है कि जब केज्यूमर घर खरीदते वक्त वह पार्किंग के बारे में नहीं सोचता है। सरकार को पार्किंग की नियमों को सख्त करने की जरुरत है। क्योंकि सरकार की पार्किंग पॉलिसी आज की मात्रा में काफी कम है।