Moneycontrol » समाचार » प्रॉपर्टी

इंडिया रियल एस्टेटः कैसा है साउथ मुंबई का अल्टामाउंट प्रोजेक्ट

प्रकाशित Mon, 25, 2017 पर 13:59  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

मुंबई में रहने के लिहाज के कुछ ऐसी खास जगह हैं जहां बसने का लोग सपना देखते हैं। साउथ मुंबई का अल्टामाउंट रोड दुनिया की सबसे महंगी साइट्स में से एक में गिना जाता है। देश के बड़े इंडस्ट्रलिस्ट और कई जानी मानी हस्तियों का यहां आशियाना है। अल्टामाउंट रोड पैडर रोड के बिल्कुल बराबर में है।


अल्टामाउंट रोड से महज 5 किलोमीटर के रेडियस में महालक्ष्मी, हाजीअली दरगाह जैसे धार्मिक स्थल हैं तो वहीं महालक्ष्मी रेसकोर्स, मरीन ड्राइव और गेटवे ऑफ इंडिया जैसे पर्यटन स्थल भी बेहद करीब हैं। इतना ही नहीं जसलोक, ब्रीच कैंडी और जगजीवन राम जैसे बड़े हॉस्पिटल्स भी अल्टामाउंट रोड से नजदीक में हैं। इस प्रोजेक्ट में क्या खास हैं इसपर सीएनबीसी- आवाज से बातचीत में लोढा ग्रुप के एमडी अभिषेक लोढा ने कहा कि अगले 50 साल में ऐसी बिल्डिंग नहीं बनेगी।


अभिषेक लोढा का कहना है कि लोढा अल्टामाउंट, अल्ट्रा लग्जरी प्रोजेक्ट है और इस प्रोजेक्ट में सीमित घर बनाए गए है। अल्टामाउंट में सुरक्षा को लेकर खास ध्यान रखा गया है। साथ ही इसमें आम प्रोजेक्ट के मुकाबले सीलिंग हाइट ज्यादा है। देश के बड़े आर्किटेक्ट और इंटीरियर डिजाइनर को इस प्रोजेक्ट के लिए चुना गया था।


लोढा अल्टामाउंट में ग्राहकों को जांच परख के घर बेचे गए। एनआरआई और कारोबारियों के लिए अल्टामाउंट प्रोजेक्ट बनाया गया और इंटरनेशनल स्टैण्डर्ड पर कंस्ट्रक्शन काम किया गया है। प्रोजेक्ट में 70 फीसदी से ज्यादा घर बिक चुके है।


लग्जरी प्रोजेक्ट्स का मार्केट कैसा? इस पर बात करते हुए अभिषेक लोढा ने कहा कि लग्जरी प्रोजेक्ट तैयार होने के बाद बिकता है और लग्जरी प्रोजेक्ट के लिए लोकेशन बेहद अहम है क्योंकि ऐसे प्रोजेक्ट का मानक अलग होता है। लोढा अल्टामाउंट में 1.5 लाख प्रति वर्गफीट पर सेल हुई क्वालिटी प्रोजेक्ट के ग्राहकों की कमी नहीं है।