टाटा मोटर्स को ₹1215 करोड़ का मुनाफा

प्रकाशित Mon, 05, 2018 पर 16:04  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का मुनाफा करीब 11 गुना बढ़कर 1215 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स को 112 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।


वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स की आय 16 फीसदी बढ़कर 74156 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स की आय 63933 करोड़ रुपये की आय हुई थी।


सालाना आधार पर तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का एबिटडा 4816 करोड़ रुपये से बढ़कर 8671 करोड़ रुपये रहा है। साल दर साल आधार पर अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में टाटा मोटर्स का एबिटडा मार्जिन 7.5 फीसदी से बढ़कर 11.7 फीसदी रहा है।


वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का स्टैंडअलोन मुनाफा 183.7 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स को 1045.9 करोड़ रुपये का स्टैंडअलोन घाटा हुआ था।


वित्त वर्ष 2018 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स की स्टैंडअलोन आय 57.8 फीसदी बढ़कर 16101.6 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स की स्टैंडअलोन आय 10205.4 करोड़ रुपये की आय हुई थी।


सालाना आधार पर तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का स्टैंडअलोन एबिटडा 17.9 करोड़ रुपये से बढ़कर 1383 करोड़ रुपये रहा है। साल दर साल आधार पर अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में टाटा मोटर्स का स्टैंडअलोन एबिटडा मार्जिन 0.2 फीसदी से बढ़कर 8.6 फीसदी रहा है।


अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में टाटा मोटर्स की जेएलआर रेवेन्यू सालाना आधार पर 4.3 फीसदी बढ़कर 6,31 करोड़ पाउंड रही है। तिमाही आधार पर जेएलआर एबिटडा मार्जिन 9.3 फीसदी से बढ़कर 10.9 फीसदी रही है।