Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

नोटबंदी से चमका कारोबार, अब भी है निवेश का अच्छा मौका

प्रकाशित Wed, 08, 2017 पर 13:34  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

8 नवंबर, एक ऐसी तारीख जिसे हम और आप कभी नहीं भूल पाएंगे। ठीक एक साल पहले रात के आठ बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक एलान ने ब्लैक मनी रखने वालों की नींद उड़ा दी थी। नोटबंदी के एलान से जहां एक ओर शेयर बाजार और इकोनॉमी को बड़ा झटका लगा, वहीं आम आदमी को भी दिक्कतें झेलनी पड़ीं। लेकिन अब एक साल बाद हालात काफी बदल गए हैं, हम अब चिंताओं और दिक्कतों से काफी आगे निकल आए हैं। हम एक ऐसे मुकाम पर आ पहुंचे हैं, जहां हम ये कह सकते हैं कि नोटबंदी के बाद अब नो टेंशन, क्योंकि हम आपको बताएंगे ऐसे शेयर जो कराएंगे आपको नए नोट से नई कमाई।


टाइटन
- नोटबंदी के दिन से अब तक शेयर 100% से ज्यादा उछला
- सरकारी पॉलिसी में बदलाव से मार्केट शेयर बढ़ा
- मार्जिन पिछली कई तिमाही के उच्चतम स्तर पर


गोदरेज प्रॉपर्टीज
- ऑर्गनाइज्ड रियल एस्टेट सेक्टर को नोटबंदी से फायदा
- मजबूत और साफ-सुथरी बैलेंस शीट वाली कंपनियों को ज्यादा फायदा
- पहली छमाही में कंपनी की सेल्स बुकिंग 3 गुना बढ़ी


एडेलवाइस
- नोटबंदी की वजह से फाइनेंशियल एसेट में निवेश बढ़ा
- ब्रोकिंग फर्म, फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनियों को फायदा
- सितंबर तिमाही में आय 26% बढ़ी, मुनाफे में 45% बढ़त


टीवीएस इलेक्ट्रॉनिक्स
- टीवीएस ग्रुप की कंपनी, नोटबंदी का सबसे ज्यादा फायदा मिला
- आईटी प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरिंग और डिस्ट्रिब्यूशन का काम
- कैशलैस पेमेंट मशीन बनाने वाली एकमात्र लिस्टेड कंपनी
- जून तिमाही में आय 8 गुना बढ़ी, घाटे से मुनाफे में आई


पीएनबी
- नोटबंदी से सरकारी बैंकों को बड़ा फायदा हुआ
- सरकार ने 2.11 लाख करोड़ रुपये निवेश का एलान किया
- रीकैपिटलाइजेशन बॉन्ड से बैंकों को 1.35 लाख करोड़ रुपये मिलेंगे
- नोटबंदी के दौरान आए डिपॉजिट का होगा इस्तेमाल
- कारोबार के टर्नअराउंड पर भी काम जारी


बाटा
- नोटबंदी की वजह से ऑर्गनाइज्ड सेक्टर को बड़ा फायदा
- कार्ड, मोबाइल वॉलेट से पेमेंट बढ़ने से मार्केट शेयर बढ़ने की उम्मीद
- नोटबंदी का फायदा उठाते हुए 250 शोरूम दोबारा सस्ती लीज पर मिली


आदित्य बिड़ला फैशन
- नोटबंदी, कैशलैस ट्रांजैक्शन का ब्रांडेड कपड़े बनाने वालों को फायदा हुआ
- लुई फिलिप, एलेन सॉली, पीटर इंग्लैंड, प्लैनेट फैशन जैसे ब्रांड


एसबीआई लाइफ
- नोटबंदी की वजह से फाइनेंशियल एसेट में निवेश बढ़ा
- बिजनेस काफी बेहतर, पैरेंट कंपनी की मजबूती का भी फायदा
- नए बिजनेस प्रीमियम के लिहाज से देश की सबसे बड़ी निजी बीमा कंपनी