बाजार में क्यों रही सुस्ती, कहां करें भरोसा -
Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

बाजार में क्यों रही सुस्ती, कहां करें भरोसा

प्रकाशित Wed, 15, 2017 पर 16:42  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कल की जोरदार तेजी के बाद आज दिग्गजों में सुस्ती देखने को मिली है। हालांकि मिडकैप में रौनक कायम रही और मि़डकैप इंडेक्स रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया। दरअसल फेड के फैसले से पहले बाजार सीमित दायरे में रहा, लेकिन छोटे-मझोले शेयरों ने मोर्चा संभाले रखा। निफ्टी तो सपाट होकर बंद हुआ है, लेकिन सेंसेक्स 0.15 फीसदी गिरा है। आज के कारोबार में निफ्टी ने 9106.55 तक दस्तक दी थी, लेकिन अंत में 9080 के आसपास बंद हुआ है। वहीं सेंसेक्स आज 29500 तक पहुंचा था, जबकि 29400 के आसपास बंद हुआ है।


आनंद राठी के सिद्धार्थ सेडानी का कहना है कि  एच1बी वीजा को लेकर जिस तरह की पॉलिसी लाई गई है उससे आईटी शेयरों में तेजी देखने को मिल सकती हैं। मिडकैप आईटी में खरीदारी जरुर करने की सलाह होगी क्योंकि आनेवाले 2 सालों में इसमें अच्छी रिटर्न बनने की संभावनाएंहै। लिहाजा पर्सिस्टेंस सिस्टम्स और मैजेस्को में इन्वेस्टमेंट के लिहाज से खरीदारी करने की सलाह होगी। बीपीसीएल में खरीदारी करने की सलाह होगी।


सागर माला प्रोजेक्ट के चलते सरकारी कंपनियों के शेयर्स को मुनाफा जरुर हो सकता है जिनमें कॉनकोर सहित कई अन्य कंपनियां शामिल हैं।


एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वी के शर्मा का कहना है कि अमेरिका में ब्याज दरों के फैसले से भारतीय बाजारों को घबराने की जरुरत नहीं हैं क्योंकि डॉलर के मुकाबले रुपये में मजबूती है। जिसके चलते अगर ब्याज दर 0.25 फीसदी बढ़त होती है तो उससे रुपये में किसी तरह की कमजोरी नजर नहीं आएगी। मौजूदा समय में बाजार में तेजी का माहौल बना हुआ है। हालांकि इससे उन निवेशकों को थोड़ा परेशानी जरुर हो सकती है जो बाजार पर गहरी पकड़ नहीं रखते। इस साल ब्याज दरों में 3 बार बढ़ोतरी के आसार है अगर यह बढ़ोतरी चौथी बार होती है तो उससे बाजार में थोड़ी कमजोरी आ सकती है। अगर बाजार थोड़ा सा हल्का होता है तो कल के सत्र में बाजार में थोड़ी मुनाफावसूली हावी हो सकती है। अगर ब्याज दरें बाजार के अनुमान के अनुसार बढ़ती हैं तो बाजार में किसी तरह की कोई समस्या नहीं होगी।


मार्केट एक्सपर्ट सर्वेंद्र श्रीवास्तव का कहना है कि ट्रेडिंग का नजरिया रख एचसीएल टेक में खरीदारी की जा सकती हैं। यह पिछले 1 महीने से 860-810 रुपये के स्तर पर कारोबार कर रहा है। आज जिस तरह से मुमेंटम देखने को मिल रही है उससे इसमें थोड़ी सी गिरावट देखने को मिल सकती है। लिहाजा इसमें 860 रुपये के ऊपरी स्तर पर स्टॉपलॉस रख शॉर्ट पोजिशन बना सकते हैं।


गॉडफ्रे फिलिप्स में तेजी देखने को मिल रही है और इसमें काफी अच्छी डिलीवरी हो रही है। लिहाजा जिन निवेशकों ने इसमें खरीदारी की है उन्हें इसमें बने रहने की सलाह होगी। इंडो काउंट अगर 192 रुपये के स्तर को बरकरार रखने में कामयाब रहता है तो इसमें तेजी देखने को मिलेगी। साथ ही इसमें वैल्यूएशन के लिहाज से भी काफी तेजी देखने को मिलेगी। लिहाजा इसमें 184 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ खरीदारी करने की सलाह होगी।


रिस्क कैपिटल एडवाइजर्स के डी डी शर्मा का कहना है कि मौजूदा समय में बाजार में खरीदारी करने के मौके हैं। जिस तरह से कई एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस साल के दूसरी तिमाही से इकोनॉमी रिकवरी देखने को मिलेगी जिसके बाद बाजार में अर्निंग मुमेंटम देखने को मिल सकती है। उसके बाद मिडकैप और लार्जकैप शेयरों में तेजी देखने को मिल सकती है। कंस्ट्रक्शन और इंजीनियरिंग सेक्टर में तेजी देखने को मिल रही है जिसके चलते आनेवाले साल में इसमें काफी तेजी देखने को मिलेगी। जे कुमार इंफ्रा, अटलांटा में तेजी देखने को मिलेगी। फर्टिलाइजर सेक्टर में भी तेजी देखने को मिल सकती है।


टायर सेक्टर में शॉर्ट टर्म रैली देखने को मिल रही है जिसकी वजह है रबर के दामों में कमी। इसलिए अभी तक इसमें किसी तरह के खरीदारी की सलाह नहीं होगी। आइडिया में टावर की डील के बाद थोड़ी स्थिरता नजर आ सकती है। क्योंकि इनके फंडामेटल में काफी सुधार होनी की संभावनाएं होगी। अगर इसमें 125 रुपये के स्तर पर कारोबार होता है तो मौजूदा निवेशक इसमें मुनाफावसूली कर सकते हैं।


पावरमायवेल्थ डॉट कॉम के संदीप वागले के मुताबिक अदानी एंटरप्राइजेज में ब्रेकआउट देखने को मिला है जिसके चलते इसमें खरीदारी करने की सलाह होगी। कल के सत्र में इसमें 105-106 रुपये के लक्ष्य आसानी से देखने को मिल सकते हैं।