Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू खबरें

गिरावट की क्या रही वजह, किन शेयरों से मिलेगा सहारा

प्रकाशित Wed, 06, 2017 पर 16:29  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

खराब ग्लोबल संकेतों ने आज भारतीय बाजारों का मूड खराब कर दिया। अमेरिकी बाजारों में गिरावट और उत्तर कोरिया को लेकर बढ़ते तनाव से बाजार में बिकवाली बढ़ी और सेंसेक्स-निफ्टी 0.5 फीसदी लुढ़क गए। अच्छी बात ये रही कि निफ्टी जैसे तैसे 9900 के ऊपर बंद होने में कामयाब रहा। आज के कारोबार में निफ्टी ने 9882.55 तक गोता लगाया, तो सेंसेक्स 31586.53 तक लुढ़क गया था।


जॉइंड्रे कैपिटल के अविनाश गोरक्षकर का कहना है कि प्राइवेट बैंकिंग सेक्टर में कोटक महिंद्रा बैंक बेहतर परफॉर्मेंस करते नजर आ रहे है। आनेवाले 2-3 तिमाही के नतीजो में भी बेहतर ग्रोथ रहने की उम्मीद है। लिहाजा इसमें खरीदारी करने की सलाह होगी। फ्यूचर कंज्यूमर में ज्यादा जोखिम के साथ ज्यादा रिटर्न बनने की संभावनाएं है। मौजूदा स्तर से इसमें तेजी देखने को मिल रही है जो आनेवले दिनों में बरकरार रह सकती है। लिहाजा इसमें खरीदारी की जा सकती है।


जस्ट डायल में कोर बिजनेस के लिए वित्त वर्ष 2018 थोड़ा चुनौतीपूर्ण रह सकता है। लिहाजा इसमें खरीदारी के लिए थोड़ा इंतजार करने के सलाह होगी।


मार्केट एक्सपर्ट सर्वेंद्र श्रीवास्तव का कहना है कि मुथुट फाइनेंस में 485 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ इसमें खरीदारी की जा सकती है क्योंकि इसमें मौजूदा स्तर से तेजी की संभावनाएं नजर आ रही है। एचओईसी में मौजूदा स्तर से 5-6 फीसदी की तेजी संभव है। लिहाजा इसमें मौजूदा निवेशक बने रहें या नई खरीदारी भी की जा सकती है।


बर्जर पेंट्स में 270 रुपये के ऊपरी स्तर को पार करता है तो इसमें तेजी देखने को मिल सकती है अन्यथा इसमें गिरावट देखने को मिलेगी। लिहाजा इसमें 270 रुपये के ऊपरी स्तर पर खरीदारी करने की सलाह होगी।


सुंदरम म्युचुअल फंड के सीईओ सुनील सुब्रमणियम का कहना है कि दिवाली तक बाजार में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रही है क्योंकि खराब ग्लोबल संकेतों के कारण एफआईआई के खरीदारी पर असर देखऩे को मिल सकता है। वहीं फेस्टिवल सीजन के कंज्मशन सेक्टर के वैल्यूएशन मंहगे हुए है जिसके कारण म्युचुअल फंड्स में आ रहे पैसे बाजार में इन्वेस्ट नहीं हो रहे है। साथ ही कई कंपनियां अपने आईपीओ ला रही है जिसके कारण इन्वेस्टर पैसे अपने पास रख रहे है।


ऑटो एंसिलरी में तेजी देखने को मिल रही है जो आनेवाले समय में बरकरार रह सकती है। अच्छे मॉनसून और फेस्टिव सीजन के कारण इस सेगमेंट में बढ़त की पूरी गुंजाइश है।


संदीप वागले का कहना है कि कैडिला हेल्थकेयर में मुमेटम देखऩे को मिल रही है। लिहाजा इसमें 502 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ 480-482 रुपये के लक्ष्य के लिए बिकवाली की जा सकती है। पीएनबी में 134 रुपये के स्तर देखने को मिल सकते है। लिहाजा इसमें भी बिकवाली की सलाह होगी।


मैक्स फाइनेंस में 600 रुपये के सपोर्ट को पार करता नजर आ रहा है लेकिन यह इनलिक्विडटी होने के कारण इसमें कमजोरी देखने को मिल सकती है। लिहाजा इसमें खरीदारी की राय नहीं होगी। साथ ही उज्जीवन, एमएंडएम में खरीदारी की जा सकती है।