Facebook Pixel Code = /home/moneycontrol/commonstore/commonfiles/header_tag_manager.php
Moneycontrol » समाचार » टैक्स

जानें टैक्स से जुड़े हर छोटे-बड़े नियमों का ब्यौरा

प्रकाशित Thu, 25, 2017 पर 14:28  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

हम एक बार फिर हाजिर है टैक्स को लेकर आपकी उलझन दूर करने के लिए, चाहे वो टैक्स बचाने के टिप्स हो या फिर रिटर्न भरने से जुड़े सवाल। हमारे टैक्स एक्सपर्ट अमिताभ सिंह लेकर आए है आपकी हर समस्या का समाधान, तो चलिए लेते हैं आपके टैक्स से जुड़े तमाम सवाल।


किन्हें मिली आधार-पैन जोड़ने से छूट
जो भारत के नागरिक नहीं है उनके लिए आधार नंबर देना अनिर्वाय नहीं है। आईटी एक्ट के मुताबिक इनकम टैक्स रिटर्न में नॉन-रेसिडेंट, 80 साल या ज्यादा उम्र के भारतीय नागरिक, असम, जेएंडके, मेघालय के निवासियों को आधार नंबर देना जरुरी नहीं है।


पैन से आधार को कैसे जोड़े
incometaxindiaefilling.gov.in पर जाकर पैन से आधार को जोड़ सकते हैं। इसके लिए वेबसाइट पर लॉगइन करने की जरुरत नहीं है। बाईं तरफ लिंक आधार पर क्लिक करें और पैन, आधार नंबर और अपना नाम लिखें। आधार और पैन पर नाम में फर्क हो तो जन्मतिथि और लिंग एक जैसे होने चाहिए। मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी को डालने के बाद पैन और आधार जुड़ जाएंगे। 


रेंटल इनकम और टैक्स
शुरुआती 12 महीनों तक घर किराए पर टैक्स छूट का कोई प्रावधान नहीं है। मान्य कटौती के बाद घर के किराए पर टैक्स देना होगा। सेक्शन 23(5) के प्रावधान से दुविधा में ना पड़े। सेक्शन 23(5)के प्रावधान रियल एस्टेट डेवलपर्स के लिए है।


एनपीएस में निवेश और टैक्स छूट
टैक्स बेनेफिट दो तरह के होते है- एक्जेंप्शन और डिडक्शन। एनपीएस में एंप्लॉयर कंट्रीब्यूशन पर सेक्शन 80सीसीडी(2) के तहत डिडक्शन होता है। आपको अपनी कुल आय में एंप्लॉयर कंट्रीब्यूशन दिखाना होगा। आप आईटीआर-1 में सेक्शन 80सीसीडी(2) के तहत डिडक्शन के तौर पर एंप्लॉयर कंट्रीब्यूशन दिखाएं।


एफएंडओ ट्रेडिंग और इनकम टैक्स
एफएंडओ ट्रेडिंग से होने वाली आय बिजनेस इनकम या कैपिटल गेन मानी जाती है। एफएंडओ ट्रेडिंग के तरीके पर निर्भर होगा कि इनकम किस कैटेगरी में आएगी। अगर एफएंडओ ट्रेडिंग निवेश के मकसद से की तो इनकम कैपिटल गेन होगी। वहीं अगर एफएंडओ ट्रेडिंग नियमित तौर पर की हो तो आय बिजनेस इनकम होगी। ये फैसला एफएंडओ ट्रेडिंग के वॉल्यूम, फ्रिक्वेंसी, इनकम साइज पर निर्भर होता है। अगर एफएंडओ ट्रेडिंग से आय बिजनेस इनकम है तो आईटीआर-3 में रिटर्न भरना होगा।