टैक्स गुरुः नए साल में टैक्स बचाएं, कमाई बढ़ाएं -
Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स गुरुः नए साल में टैक्स बचाएं, कमाई बढ़ाएं

प्रकाशित Sat, 07, 2017 पर 16:01  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टैक्स गुरु में हम जानेंगे टैक्स प्लानिंग के कुछ टिप्स जिसके जरिए आप वित्तवर्ष 2016-17 में कर सकते हैं परफेक्ट टैक्स प्लानिंग और इसमें हमारी मदद करेंगे टैक्स एक्सपर्ट शरद कोहली


टैक्स एक्सपर्ट शरद कोहली का कहना है कि अप्रैल-दिसंबर में किए निवेश और खर्चों की गणना करनी चाहिए। सेक्शन 80 सी के तहत सिर्फ निवेश ही नहीं बल्कि कई खर्चों पर भी टैक्स छूट मिल सकती है। बच्चों की ट्यूशन फीस 80सी के तहत टैक्स छूट की हकदार है। आपका पीएफ में अंशदान भी 80 सी के तहत टैक्स छूट का हकदार है। सिर्फ टैक्स बचाने के मकसद से बेवजह निवेश ना करें। 80 सी में किया निवेश लंबे समय तक लॉक-इन रहता है।


इंश्योरेंस को इंवेस्टमेंट की तरह नहीं देखना चाहिए। बल्कि आपका निवेश संतुलित होना चाहिए। इंश्योरेंस पॉलिसी में रिस्क कवर का ध्यान रखें। पीपीएफ, एनएससी जैसे माध्यम निवेस के लिए बेहतर है। ईएलएसएस में भी अपनी जरुरत के मुताबिक निवेश कर सकते हैं। एनपीएस में निवेश पर अतिरिक्त 50,000 तक की छूट मिल सकती है। एनपीएस में निवेश करते हों तो 2 लाख तक की छूट के हकदार आप हो सकते हैं। 


शरद कोहली का कहना है कि सामान्य टैक्सपेयर्स को 80डी में 25,000 रुपये तक की छूट मिल सकती है। सीनियर सिटीजन को 80डी में 30,000 रुपये तक की छूट मिलती है। 80 जी के तहत दान या चंदे पर टैक्स छूट मिलती है। घर का किराया देते हों तो सेक्शन 10(13ए) का फायदा ले सकते हैं। 


शरद कोहली के मुताबिक इस बार बजट में सेक्शन 80सी में छूट की 1.5 लाख की सीमा बढ़ाई जा सकती है। टैक्स पेयर्स को और भी दूसरी छूट दी जा सकती हैं।