Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स गुरुः मुहूर्त ट्रेडिंग और गिफ्ट पर टैक्स के क्या हैं नियम

प्रकाशित Thu, 27, 2016 पर 13:57  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टैक्स एक ऐसा शब्द है जिसे सुनते ही आम आदमी ही नहीं जानकार भी घबराने लगते हैं। आज टैक्स गुरु में फोकस करेंगे दिवाली के इस त्यौहार पर और टैक्स गुरु का गुरु मंत्र यहीं है कि कैसे आप इस दिवाली अपने टैक्स की चिंता किए बगैर अपनी दिवाली खुल कर मनाएं। और इसमें आज हमारी मदद करेंगें टैक्स एक्सपर्ट शरद कोहली।


दीवाली में टैक्स बचाने के टिप्स में हम फोकस करेंगे मुहूर्त ट्रेडिंग पर। अगर आप मुहूर्त ट्रेडिंग करते है आपको मुनाफा हुआ है तो आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। कंपनी ने आपको दिया है दिवाली बोनस तो टैक्स के बारें में क्या जाने आप और तीन भाईयों में हो घर का बंटवारा तो कैसे तय होगी टैक्स की लायब्लिटी। लेकिन सबसे पहले मुहूर्त ट्रेडिंग की जाएं।


टैक्स एक्सपर्ट शरद कोहली का कहना है कि इंट्राडे ट्रेडिंग में हुए मुनाफे पर स्लैब के मुताबिक टैक्स लगेगा। लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन हुआ हो तो कोई टैक्स नहीं होता है। वहीं शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन हुआ हो तो 15 फीसदी टैक्स लगता है। बिजनेस की तरह शेयर ट्रेडिंग करते हो तो खाते में दिखाना होगा। बिजनेस इनकम की तरह शेयर मुनाफे पर टैक्स देना होगा। स्पेक्युलेटिव इनकम पर 30 फीसदी टैक्स देनदारी होती है। लॉटरी,पहेली, कंपीटिशन में इनाम पर 30 फीसदी टैक्स देना होता है।


शरद कोहली के मुताबिक गैर-रिश्तेदारों से मिले 50,000 रुपये तक के गिफ्ट पर टैक्स छूट होती है। 50000 रुपये से ज्यादा के गिफ्ट को इनकम में दिखाना होगा। 50,000 रुपये से ज्यादा के गिफ्ट पर स्लैब के मुताबिक टैक्स होता है। रिश्तेदारों से मिले गिफ्ट पर कोई टैक्स नहीं देना होता है। रिश्तेदारों से मिलने वाले गिफ्ट की कोई सीमा नहीं होती।


शरद कोहली के अनुसार पुराने कारोबारी अभी भी बही खाता रखते है। बही खाता सिंगल एंट्री सिस्टम की एकाउंटिंग होता है। लेकिन 30 मार्च को कारोबारी खाता बंद करना अनिवार्य है। दिवाली पर नया खाता शुरु करने वालों को भी 30 मार्च को पुराना खाता बंद करना होता है। डिप्रेसिएशऩ, बिजनेस प्रोविजन की एंट्री में टैक्स नियमों का ख्याल रखें।


शरद कोहली का कहना है कि बोनस को सैलरी ही माना जाता है। बोनस को सैलरी में जोड़कर उस पर टैक्स देना होगा। एंप्लॉयर से मिली कोई भी राशि सैलरी कहलाएगी।