Moneycontrol » समाचार » टैक्स

योर मनीः किस पॉलिसी से बचेगा टैक्स!

प्रकाशित Sat, 13, 2018 पर 15:43  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

योर मनी को है आपकी फाइनेंशियल हेल्थ की चिंता और इसलिए आज हम इंश्योरेंस की बारीकियों पर नजर डालेंगें। टैक्स बचत के लिए 80 सी में निवेश करने का समय नजदीक आ रहा है, और ये वो वक्त है जब लोग सबसे ज्यादा निवेश करते हैं और गलत निवेश भी  करते हैं। इंश्योरेंस में कहां कहां आपसे गलती होती हैं, योर मनी विस्तार से बात करेगा। आज हमारे साथ मौजूद है 5फाइनेंसडॉटकॉम की इंश्योरेंस एक्सपर्ट मंजु ढाके।


मंजु ढाके का कहना है कि टैक्स बचाने के लिए होल लाइफ पॉलिसी में निवेश ना करें। होल लाइफ पॉलिसी में रिटर्न कम होते हैं। होल लाइफ पॉलिसी के रिटर्न महंगाई को मात नहीं देते है। वहीं एन्युटी प्लान में टैक्स तो बचता है लेकिन पेंशन पर टैक्स कट जाता है। सिंगल प्रीमियम पॉलिसी में सम अश्योर्ड पर ध्यान दें। सिंगल प्रीमियम पॉलिसी के प्रीमियम पर सेक्शन 80सी में छूट मिलता है। सिंगल प्रीमियम पॉलिसी के मैच्युरिटी पर सेक्शन 10 (10डी) में छूट मिलता है। इंश्योरेंस को जोखिम से अपने को बचाने के लिए खरीदें।


टैक्स बचत के लिए 80सी में इंश्योरेंस और निवेश के विकल्प है। सेक्शन 80सी के तहत सही इंश्योरेंस प्लान टर्म इंश्योरेंस का प्रीमियम है। पीपीएफ में निवेश, ईएलएलएस में निवेश, ईएलएलएस और टर्म प्लान में निवेश कर सकते है। साथ ही टर्म प्लान और रिटायरमेंट फंड में निवेश कर सकते है।