Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड खबरें

एमएफ इंडस्ट्री एकजुट, बढ़े टैक्स का विरोध

डेट म्युचुअल फंड पर बढ़े लांग टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स पर म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री एकजुट हो गई है।
अपडेटेड Jul 14, 2014 पर 13:31  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

डेट म्युचुअल फंड पर बढ़े लांग टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स पर म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री एकजुट हो गई है। म्यूचुअल फंड कंपनियों की संस्था एएमएफआई ने इस पर बैठक की है। और एएमएफआई इस टैक्स पर सेबी और सरकार को लिखेगी। हालांकि हालांकि सूत्रों के मुताबिक सरकार पुरानी तारीख से टैक्स लगाने पर कुछ राहत दे सकती है।


सूत्रों के मुताबिक एएमएफआई के अधिकारियों ने सेबी चेयरमैन यूके सिन्हा से मुलाकात की है और एएमएफआई म्यूचुअल फंड पर बढ़ाए गए टैक्स पर सेबी और सरकार को लिखेगी। एएमएफआई ने पिछले हफ्ते म्यूचुअल फंड कंपनियों के साथ बैठक की है।


सूत्रों के मुताबिक एमएफ इंडस्ट्री सिर्फ क्लोज एंडेड स्कीमों पर टैक्स लगाने को लिखेगी। गौरतलब है कि वित्तमंत्री ने बजट में इक्विटी स्कीमों के अलावा सभी स्कीमों पर 20 फीसदी कैपिटल गेन्स टैक्स कर दिया है। डेट फंड में 1 साल के बदले 3 साल रहने पर लांग टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स लगाया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक एम्फी अधिकारी दोबारा सेबी चेयरमैन से मुलाकात करेंगे।


वीडियो देखें