Moneycontrol » समाचार » निवेश

योर मनीः क्या है खर्च करने का सही सलीका

योर मनी में हम आपको देते हैं निवेश के टिप्स और बताते हैं खर्च करने का सही सलीका।
अपडेटेड May 30, 2015 पर 17:03  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नियमित रूप से निवेश ही एक मात्र ऐसा माध्यम है जिससे हम अपने भविष्य के वित्तीय लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं। ऐसे में जरूरी है कि हम बिना किसी रुकावट के निवेश करते जाएं। यही नहीं, ध्यान रखें कि जब वेतन बढ़े तो निवेश को और बढ़ा देना चाहिए। योर मनी में हम आपको देते हैं निवेश के टिप्स और बताते हैं खर्च करने का सही सलीका ताकि आपकी लाइफ बने आसान और जरूरत के साथ ही आप अपनी सभी हसरतें भी पूरी कर सकें। आज हमारे साथ शो में हैं, वाइजइंवेस्ट एडवाइजर्स के सीईओ हेमंत रुस्तगी।


सवालः 2 साल में 50 लाख रुपये का कोलकाता में घर खरीदना है और 2 साल में अपनी शादी के लिए 10 लाख रुपये चाहिए। 5 साल में बहन की शादी के लिए 40 लाख रुपये चाहिए। रिटायरमेंट प्लानिंग और वेल्थ क्रिएशन के लिए क्या करें। 1.25 लाख की मासिक बचत है और नया निवेश शुरू करना चाहते हैं। सही निवेश स्ट्रैटेजी पर सलाह दें?


हेमंत रुस्तगीः घर खरीदने के लिए 50 लाख का लक्ष्य है तो 2 साल में 50 लाख रुपये जमा करना मुमकिन नहीं होगा। आप होम लोन लेकर घर खरीदें, डाउनपेमेंट के लिए पैसे जमा करें। 15 लाख के कॉरपस का लक्ष्य रखें और 2 साल में 15 लाख रुपये के लिए 55000 रुपये हर माह निवेश करें। आप कोटक इक्विटी सेविंग्स, आईसीआईसीआई बैलेंस्ड एडवांटेज फंड में निवेश कर सकते हैं। अपनी शादी के लिए 2 साल में 10 लाख रुपये चाहिए तो आप 38000 रुपये की एसआईपी करें। इसके लिए कोटक इक्विटी सेविंग्स, आईसीआईसीआई बैलेंस्ड एडवांटेज फंड अच्छे लग रहे हैं।


बहन की शादी के लिए 5 साल में 40 लाख रुपये के लिए 50000 रुपये की एसआईपी करें। इसके लिए टाटा बैलेंस्ड फंड, एसबीआई मैग्नम बैलेंस्ड फंड अच्छे हैं और एलएंडटी प्रूडेंस फंड में भी निवेश कर सकते हैं। आपको लक्ष्य के बारे में फिर से सोचना जरूरी है और रिटायरमेंट की प्लानिंग अपनी और बहन की शादी के बाद शुरू करें तो बेहतर होगा।


सवाल:11 महीने का कार लोन बचा है तो क्या 11000 रुपये ईएमआई लोन खत्म करके 11000 रुपये हर माह की एसआईपी शुरू करें? फ्रैंकलिन इंडिया पेंशन फंड में एसआईपी है जो कि 25 साल तक रखेंगे। नॉन-डायरेक्ट फंड का कॉरपस डायरेक्ट फंड में शिफ्ट कर दें? 3 लाख रुपये का इमरजेंसी फंड आईडीएफसी कैश-डायरेक्ट में जमा है तो क्या इमरजेंसी फंड आर्बिट्रेज फंड में शिफ्ट कर दें?  क्या सारा एमएफ पोर्टफोलियो डीमैट में शिफ्ट कर दें?


हेमंत रुस्तगीः आपको सलाह है कि कार लोन रीपेमेंट करके, ईएमआई राशि निवेश करें और पता करें कि किस लक्ष्य में ज्यादा निवेश जरूरी है। लॉन्ग टर्म लक्ष्य में निवेश बढ़ाएं जिससे अतिरिक्त कॉरपस बनेगा।


आप फ्रैंकलिन इंडिया पेंशन फंड में एसआईपी कर सकते हैं। डायरेक्ट प्लान में शिफ्ट करेंगे तो एक्जिट लोड और कैपिटल गेन टैक्स देना होगा। लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन पर इंडेक्सेशन के बाद 20 फीसदी की दर से टैक्स लगता है। 25 साल फंड में बने रहेंगे तो बहुत अच्छी कमाई होगी। 25 साल में अभी चुकाए गए पैसों के मुकाबले कई गुणा ज्यादा कमाई हो सकती है। आप डायरेक्ट फंड में शिफ्ट कर सकते हैं।


टैक्स के लिहाज से लिक्विड फंड के मुकाबले आर्बिट्रेज फंड बेहतर रहेंगे और आर्बिट्राज फंड निवेश के लिए काफी सुरक्षित रहते हैं। मासिक डिविडेंड विकल्प चुनना बेहतर स्ट्रैटेजी हो सकता है क्योंकि इसमें डिविडेंड टैक्स-फ्री होगा। सिर्फ एमएफ निवेश के लिए डीमैट खाता खोलने पर खर्च ज्यादा होता है और इसमें ट्रांजैक्शन चार्ज, एनुअल चार्ज आदि मिलाकर खर्च ज्यादा पड़ते हैं।


वीडियो देखें