Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स गुरूः करें टैक्स की टेंशन छूमंतर

टैक्स से जुड़ी बातें जिसमें हम कभी ना कभी उलझ ही जाते हैं, तब टैक्स गुरू का गुरू मंत्र काम आता है।
अपडेटेड Jun 27, 2015 पर 17:28  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टी से टैक्स और टी से ही होती है टेंशन, यानि टैक्स की टेंशन लेकिन टी से ही होता है टैक्स गुरू, वो नाम जो करता है आपकी टैक्स की टेंशन को छूमंतर ताकि आप ले सकें राहत की सांस और आपकी चेहरे की मुस्कान रहे हमेशा बरकरार। इतने समय से टैक्स गुरू का साथ आपके साथ बना हुआ है तो हम ये मानते हैं कि आप टैक्स बचत और प्लानिंग को लेकर काफी समझदार हो गए होंगे लेकिन फिर भी ऐसी कई बातें होती हैं टैक्स से जुड़ी जिसमें हम सभी कभी ना कभी उलझ ही जाते हैं, तब टैक्स गुरू का गुरू मंत्र काम आता है। हर हफ्ते हम टैक्स, निवेश, बचत और प्लानिंग से जुड़े खास टिप्स लेकर आते हैं ताकि आपका हो फायदा और हमारे इस सफर में हमारा साथ देते हैं हमारे और आपके टैक्स गुरू सुभाष लखोटिया।


सवालः क्या आईटी कानून के तहत एआईआर यानि एनुअल इंफॉर्मेशन रिटर्न का प्रावधान है। क्या एआईआर के जरिए इनकम टैक्स विभाग हमारे बड़े खर्चों और निवेश की जानकारी जुटा सकता है।


सुभाष लखोटियाः एआईआर के तहत कई बातें आती हैं जिनकी जानकारी इनकम टैक्स विभाग जुटाता है। 6-30 लाख या ऊपर की अचल संपत्ति खरीद-बिक्री की जानकारी, एक साल में 2 लाख रुपये या ज्यादा का क्रेडिट कार्ड से खर्च, म्यूचुअल फंड में 2 लाख रुपये या ज्यादा का निवेश, कंपनी या संस्था के 5 लाख या ज्यादा के बॉन्ड या डिबेंचर में निवेश, बैंक के बचत खाते में 10 लाख रुपये या ज्यादा का कैश डिपॉजिट, पब्लिक-राइट्स इश्यू से कंपनी के 1 लाख या ज्यादा के शेयर खरीदें हों तो, 1 साल में 1 लाख या ज्यादा के रिजर्व बैंक के बॉन्ड्स खरीदें हों तो, कैश में 5 लाख का बुलियन या 2 लाख रुपये के गहनों की खरीद पर इकम टैक्स विभाग एआईआर के जरिए सूचना जुटा सकता है।


सवालः मेरी पत्नी को अपने पिता से गिफ्ट के तौर पर 20,000 रुपये मिले हैं, क्या इस रकम पर मुझे या मेरी पत्नी को टैक्स देना होगा? इस रकम को एफडी कराके देने पर ब्याज पर किसको टैक्स देना होगा?


सुभाष लखोटियाः आपकी पत्नी अपने पिता से गिफ्ट ले सकती हैं और पिता अपनी बेटी को गिफ्ट दे सकते हैं। आप दोनों पर टैक्स की कोई देनदारी नहीं होगी। रिश्तेदार से गिफ्ट लेने पर कोई टैक्स नहीं लगता है। हालांकि आपके बैंक एफडी का ब्याज पत्नी की इनकम मानी जाएगी तो उस पर टैक्स लगेगा।


सवालः नौकरी बदल रहा हूं, क्या इसमें नोटिस पेमेंट पर छूट मिलेगी? नौकरी बदलने पर पुरानी कंपनी में 66000 बतौर नोटिस पेमेंट दिया। नई कंपनी से उन्हें इस पर रीइंबर्समेंट नहीं मिला। क्या इस रकम पर टैक्स छूट मिलेगी?


सुभाष लखोटियाः कंपनी को बतौर नोटिस पेमेंट दी गई रकम पर किसी तरह की टैक्स छूट नहीं मिलती है।


सवालः क्या मैं एचयूएफ के सदस्यों को एचयूएफ की कुछ रकम गिफ्ट कर सकता हूं, क्या इस पर टैक्स की देनदारी बनेगी?


सुभाष लखोटियाः एचयूएफ के सदस्यों को एचयूएफ को गिफ्ट नहीं करना चाहिए। अगर गिफ्ट करेंगे तो सेक्शन 64 के तहत क्लबिंग प्रावधान लागू हो जाएगा। एचयूएफ को दोस्तों से साल में 50,000 रुपये तक गिफ्ट टैक्स फ्री है। हालांकि 50,000 रुपये से ऊपर की रकम पर टैक्स लगेगा। एचयूएफ को सदस्य ब्याज मुक्त लोन दे सकते हैं।


सवालः अभी हाल ही में शादी हुई है, क्या शादी में हुए खर्च पर इनकम टैक्स की देनदारी बनती है, क्या शादी में मिले गिफ्ट पर टैक्स देना होगा?


सुभाष लखोटियाः शादी में हुए सभी खर्चों की पूरी जानकारी रखें ताकि जांच होने पर जवाब दे सकें। शादी में मिले गिफ्ट की सूची बनाएं क्योंकि शादी के समय मिले गिफ्ट पर कोई टैक्स नहीं लगता है। शादी के बाद घूमने जा रहे हैं तो ट्रिप के खर्च का पूरा ब्यौरा रखें।


वीडियो देखें