Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

कई बड़ी कंपनियों के विज्ञापन पाए गए भ्रामक

एएससीआई यानि एडवर्टाइजिंग स्टैंडर्ड काउंसिल ऑफ इंडिया ने 114 विज्ञापनों को रोकने का आदेश दिया है।
अपडेटेड Jul 22, 2015 पर 09:42  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

एएससीआई यानि एडवर्टाइजिंग स्टैंडर्ड काउंसिल ऑफ इंडिया ने 114 विज्ञापनों को रोकने का आदेश दिया है। एएससीआई ने इन विज्ञापनों को भ्रामक बताते हुए इन्हें रोकने को कहा है।


एएससीआई को कुल 144 विज्ञापनों के खिलाफ शिकायतें मिली थीं जिनमें से 114 भ्रामक पाई गईं। इन 114 विज्ञापनों में से 60 पर्सनल और हेल्थकेयर कैटेगरी की हैं। और 30 विज्ञापन एजुकेशन कैटेगरी की हैं। इनमें 8 विज्ञापन फूड और बेवरेजेज कैटेगरी की हैं। इनमें कई नामी कंपनियों के विज्ञापन शामिल हैं।


कोलगेट-पामोलिव का कोलगेट सेंसिटिव प्रो रिलीफ एनामेल रिपेयर कैंपेन, वोडाफोन का दि फास्टेस्ट 3जी नेटवर्क और शेयर फोटोज 43% फास्टर, आइडिया इंटरनेट नेटवर्क, भारती एयरटेल का स्ट्रीम वीडियोज 26% फास्टर and बैटरी लास्टस 8% लॉन्गर ऑन एयरटेल जैसे कई कैंपेन में किए गए दावों को एएससीआई ने गलत माना है।