Moneycontrol » समाचार » बीमा

इंश्योरेंस की समझ: क्या है मनीबैक पॉलिसी

मनीबैक पॉलिसी में बीमा के साथ निवेश की भी सुविधा मिलती है और रेगुलर अंतराल पर पैसा वापस आता है।
अपडेटेड Jul 31, 2015 पर 16:45  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

फाइनेंशियल प्लानिंग का एक जरूरी हिस्सा होता है बीमा यानी इंश्योरेंस। लेकिन इस बारे में आम लोगों में जानकारी कम है। इंश्योरेंस क्यों जरूरी है, क्यों लेना चाहिए इंश्योरेंस, किस तरह का प्लान चुनें। यहां इन्हीं सभी सवालों के जवाब देने की कोशिश की जा रही है। इन मुद्दों पर बात करने के लिए आज हमारे साथ हैं फाइनेंशियल प्लानर अर्णव पंड्या।


आज हम बात कर रहे हैं मनीबैक पॉलिसी की। अगर आप कम जोखिम और गारंटीड रिटर्न के साथ बीमा और निवेश की सुविधा तलाश रहे हैं तो मनीबैक पॉलिसी आपके लिए अच्छा विकल्प है।


मनीबैक पॉलिसी में बीमा के साथ निवेश की भी सुविधा मिलती है और रेगुलर अंतराल पर पैसा वापस आता है। इसके साथ ही इसमें पॉलिसी टर्म खत्म होने पर एकमुश्त राशि भी मिलती है और पॉलिसी टर्म के दौरान इंश्योरेंस कवर भी मिलता है।


मनीबैक पॉलिसी लेते समय ये ध्यान रखें कि कितने समय के अंतराल पर पैसे मिलेंगे। इसलिए पैसे की जरूरत ध्यान रखकर ही अंतराल तय करें। इसके साथ इस तरह की पॉलिसी में वापसी की रकम भी ध्यान रखना जरूरी होता है। ये सुनिश्चित करें कि जरूरतें पॉलिसी की रकम से पूरी हो जाएं। इस तरह की पॉलिसी उनको लिए उपयुक्त होती है जिनको समय-समय पर पैसों की जरूरत पड़ती रहती है।


वीडियो देखें