Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स की उलझनों पर टैक्स गुरू के गुरूमंत्र

प्रकाशित Sat, 17, 2015 पर 18:09  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टैक्स गुरु हर हफ्ते लेके आते हैं आपकी टैक्स से जुड़ी उलझनों के जवाब। इस हफ्ते भी टैक्स गुरु आपकी टैक्स से जुड़ी उलझनों को सुलझाने के लिए लेके आए हैं अपनी बहूमूल्य सलाह। टैक्स गुरु सुभाष लखोटिया से जानें आपकी टैक्स से जुड़ी समस्याओं के आसान से जवाब।


सवाल:  लखोटिया जी इमरजेंसी फंड क्यों जरूरी है और क्या इंमरजेंसी फंड बना कर हमें किसी तरह का टैक्स छूट का फायदा मिलता है?


सुभाष लखोटिया: इमरजेंसी फंड पर टैक्स छूट का कोई भी फायदा नहीं मिलता। लेकिन हर व्यक्ति को इमरजेंसी क्राइसिस फंड जरूर बनाना चाहिए। इमरजेंसी के लिए कैश रखने की जरूरत होती है। स्वास्थ्य संबंधित कोई परेशानी होने पर इमरजेंसी फंड से मदद मिलती है। इसके अलावा उच्च शिक्षा, शादी जैसे मौकों के लिए बड़ी रकम की जरूरत होती है।


इमरजेंसी में पड़ने वाली जरूरतों के लिए आपको अपने पैसे संभाल के रखने होंगे। इमरजेंसी के लिए आपको बैंक फिक्सड डिपॉजिट से पैसे मिल सकते हैं। इसके अलावा इमरजेंसी के लिए पीपीएफ/पीएफ एकाउंट से भी पैसे निकाले जा सकते हैं। इमरजेंसी में शेयर और इक्विटी म्युचुअल फंड में निवेश होने पर इनकी बकवाली करके भी पैसे जुटाए जा सकते हैं।


सवाल: एक अंडर कंस्ट्रक्शन बिल्डिंग में जिसका पजेशन 2016 में मिलेगा, पर लिए जाने बैंक लोन पर टैक्स देनदारी कैसे तय होगी?


जवाब: अगर वित्त वर्ष 2015-16 में घर रहने के लिए तैयार नहीं है तो होमलोन के ब्याज पर टैक्स छूट नहीं मिलेगी। सिर्फ लोन रिपेमेंट पर टैक्स छूट मिलेगी।


वीडियो देखें