आएंगे दिग्गजों के नतीजे, क्या कह रहा है अनुमान

आज निफ्टी में शामिल 4 अहम कंपनियों के नतीजे आने वाले हैं।
अपडेटेड Oct 29, 2015 पर 15:18  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज निफ्टी में शामिल 4 अहम कंपनियों के नतीजे आने वाले हैं। इनमें आईसीआईसीआई बैंक, एलएंडटी, कोटक महिंद्रा बैंक और आईटीसी शामिल हैं। आइए जानते हैं कि कैसे रहेंगे इन दिग्गज कंपनियों के नतीजे।


आईसीआईसीआई बैंक


सीएनबीसी-आवाज़ के अनुमान के मुताबिक वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक का मुनाफा 10 फीसदी बढ़कर 2,976 करोड़ रुपये रह सकता है। वित्त वर्ष 2015 की दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक का मुनाफा 2,709 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक की ब्याज आय 12 फीसदी बढ़कर 5,226 करोड़ रुपये रह सकती है। वित्त वर्ष 2015 की दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक की ब्याज आय 4,656.6 करोड़ रुपये रही थी।


एलएंडटी


सीएनबीसी-आवाज़ के अनुमान के मुताबिक वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में एलएंडटी का मुनाफा 10 फीसदी बढ़कर 948 करोड़ रुपये रह सकता है। वित्त वर्ष 2015 की दूसरी तिमाही में एलएंडटी का मुनाफा 862 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में एलएंडटी की आय 12 फीसदी बढ़कर 23,618 करोड़ रुपये रह सकती है। वित्त वर्ष 2015 की दूसरी तिमाही में एलएंडटी की आय 21,159.4 करोड़ रुपये रही थी।


साल दर साल आधार पर जुलाई-सितंबर तिमाही में एलएंडटी का एबिटडा 2,334.2 करोड़ रुपये से बढ़कर 2,608 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में एलएंडटी का एबिटडा मार्जिन 11 फीसदी पर बरकरार रहने का अनुमान है।


कोटक महिंद्रा बैंक


सीएनबीसी-आवाज़ के अनुमान के मुताबिक वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में कोटक महिंद्रा बैंक का स्टैंडअलोन मुनाफा 26 फीसदी बढ़कर 558 करोड़ रुपये रह सकता है। वित्त वर्ष 2015 की दूसरी तिमाही में कोटक महिंद्रा बैंक का स्टैंडअलोन मुनाफा 444 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में कोटक महिंद्रा बैंक की ब्याज आय 59 फीसदी बढ़कर 1,653.5 करोड़ रुपये रह सकती है। वित्त वर्ष 2015 की दूसरी तिमाही में कोटक महिंद्रा बैंक की ब्याज आय 1,038 करोड़ रुपये रही थी।


आईटीसी


सीएनबीसी-आवाज़ के अनुमान के मुताबिक वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में आईटीसी का मुनाफा 7.5 फीसदी बढ़कर 2,607 करोड़ रुपये रह सकता है। वित्त वर्ष 2015 की दूसरी तिमाही में आईटीसी का मुनाफा 2,425 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में आईटीसी की आय 3.5 फीसदी बढ़कर 9,334 करोड़ रुपये रह सकती है। वित्त वर्ष 2015 की दूसरी तिमाही में आईटीसी की आय 9,024 करोड़ रुपये रही थी।


साल दर साल आधार पर जुलाई-सितंबर तिमाही में आईटीसी की ऑपरेटिंग आय 3,489 करोड़ रुपये से बढ़कर 3,714 करोड़ रुपये रह सकती है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में आईटीसी का ऑपरेटिंग मार्जिन 38.66 फीसदी से बढ़कर 39.78 फीसदी रहने का अनुमान है।


वीडियो देखें