Moneycontrol » समाचार » ब्रोकर रिपोर्ट - बाजार

बीजेपी की करारी हार, ब्रोकरेज हाउसेज चिंतित

एफआईआई ब्रोकरेज हाउसेज क्यों चिंतित हैं और कहां निवेश के मौके दिख रहे हैं।
अपडेटेड Nov 09, 2015 पर 09:58  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बिहार नतीजों के बाद एफआईआई ब्रोकरेज हाउसेज क्यों चिंतित हैं और कहां निवेश के मौके दिख रहे हैं, आइए ये जानते हैं।


दिग्गज एफआईआई ब्रोकरेज हाउस सीएलएसए के मुताबिक बिहार चुनाव मोदी सरकार के लिए झटका है। हालांकि सीएलएसए ने बाजार में गिरावट के समय खरीदारी की सलाह दी है। हालांकि सीएलएसए का मानना है कि बिहार चुनाव के नतीजों के बाद अब रिफॉर्म प्रक्रिया मुश्किल में पड़ सकती है।


वहीं एक और दिग्गज एफआईआई ब्रोकरेज हाउस जेपी मॉर्गन ने आईटी और हेल्थ सेक्टर में निवेश की सलाह दी है। जेपी मॉर्गन का मानना है कि बिहार चुनाव के नतीजों से बाजार में थोड़ा डर जरूर है, लेकिन अब केंद्र सरकार को और तेजी काम करना होगा। जेपी मॉर्गन के मुताबिक इकोनॉमी में सुधार की प्रक्रिया सुस्त रहने से वित्तीय घाटा बढ़ सकता है।


साथ ही दिग्गज ब्रोकरेज सिटी का मानना है कि बिहार चुनाव के नतीजों के बाद बाजार में 2-4 फीसदी की गिरावट आ सकती है। बिहार में बीजेपी की हार से छोटी अवधि में असर पड़ेगा। चुनाव का बाजार पर सीधा फर्क पड़ेगा।


वीडियो देखें