Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स के मुश्किल सवाल, टैक्स गुरू के आसान जवाब

आपके लिए इनकम टैक्स को आसान बनाने के लिए हमारे साथ हैं टैक्स गुरू सुभाष लखोटिया।
अपडेटेड Nov 20, 2015 पर 12:34  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अगर टैक्स का मतलब आपके लिए टेंशन है तो हम आपके लिए एक बार फिर से हाजिर हैं टैक्स गुरु के साथ। टैक्स गुरु है आपका पर्सनल टैक्स गाइड, जो करता है टैक्स से जुड़े हर छोटी-बड़ी उलझन को दूर। यहां आपको मिलता है टैक्स से जुड़े हर सवाल का जवाब। आपके लिए इनकम टैक्स को आसान बनाने के लिए हमारे साथ हैं टैक्स गुरू सुभाष लखोटिया।


सवालः अगर किसी के पास जमीन, ज्वेलरी या प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के शेयर हैं, साथ ही 2 घर भी हैं तो क्या जमीन, शेयर वगैरह बेचकर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेंस टैक्स बचाने का कोई तरीका है                    


सुभाष लखोटियाः कैपिटल गेंस के नियमों के तहत इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 54एफ के प्रावधान का फायदा उठा सकते हैं। इसके तहत करदाता जमीन, ज्वेलरी या प्राइवेट कंपनी के शेयर बेचकर और घर खरीदकर कैपिटल गेंस टैक्स बचा सकते हैं। हालांकि अगर पहले से 2 घर हों तो फायदा नहीं मिल पाएगा।


सवालः दादी के पास 5 फ्लैट हैं और ये सभी 3 साल से ज्यादा पुराने हैं। एक फ्लैट बेचकर दादी एक नया फ्लैट खरीदना चाहती हैं, क्या लॉन्ग टर्म कैपिटल गेंस टैक्स लगेगा?


सुभाष लखोटियाः 3 साल से पुरानी प्रॉपर्टी बेचकर नई प्रॉपर्टी लेने पर कैपिटल गेंस टैक्स नहीं लगेगा। हालांकि इसके लिए एक शर्त ये है कि फ्लैट बेचकर रेसिडेंशियल प्रॉपर्टी में ही निवेश करना होगा। अगर आप कमर्शियल प्रॉपर्टी में निवेश करेंगे तो टैक्स छूट नहीं मिल पाएगी।


सवालः एक ट्रस्ट के मेंबर हैं और इस ट्रस्ट को हाल ही में कुछ शेयर अपनी दिवंगत चाचा चाची के वसीयत के जरिए शेयर मिले हैं। जानना चाहता हूं कि क्या इस विल के जरिए मिले हुए शेयर जो मेरे हिस्से में आते हैं उनको बेचना संभव है और इस पर टैक्स की देनदारी कैसे होगी?


सुभाष लखोटियाः आपके लिए बेहतर है कि ट्रस्ट ही उसे मिले शेयर को बेचे। हालांकि इस सवाल के पूरे ब्यौरे के लिए वसीयत देखनी होगी कि किस आधार पर ट्रस्ट को शेयर दिए गए हैं और शेयर बेचने से मिली आय किसके हिस्से में आने की बात वसीयत में कही गई है। 


सवालः बेटी की हाल में शादी हुई है। चेक पेमेंट और नेफ्ट के जरिए पेमेंट करके बेटी की शादी के गहने खरीदे थे। जानना चाहती हूं कि क्या बेटी सारे गहने बिना किसी टैक्स की देनदारी के आसानी से अमेरिका ले जा सकती है।


सुभाष लखोटियाः बेटी की शादी के लिए चेक से गहने खरीदे हैं और बेटी अमेरिका में रहती है तो गहने विदेश ले जाने पर टैक्स की देनदारी नहीं होगी। आपकी बेटी को गहने विदेश ले जाने में कोई परेशानी नहीं होगी। हालांकि सुरक्षा की दृष्टि से बेहतर होगा कि बेटी के पासपोर्ट पर इस बारे में लिखवा लें जिससे कस्टम के समय बेटी को दिक्कत ना हो।


वीडियो देखें