चीनी की कीमतों में बढ़त की उम्मीद: शक्ति शुगर्स -
Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

चीनी की कीमतों में बढ़त की उम्मीद: शक्ति शुगर्स

प्रकाशित Fri, 09, 2018 पर 14:00  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में आज रडार पर है शक्ति शुगर्स है। सरकार ने मिलों को राहत देने के लिए चीनी की बिक्री पर 2 महीने के लिए सीमा लगा दी है। इससे पहले चीनी इंपोर्ट पर 100 फीसदी की ड्यूटी लग चुकी है। इस साल 261 लाख टन चीनी उत्पादन संभव है। घरेलू बाजार में चीनी के भाव की बात करें तो इस सीजन में इसके भाव करीब 17 फीसदी लुढ़के हैं। इस हफ्ते करीब 3.5 फीसदी की रिकवरी देखने को मिली है। चीनी का मिल भाव 3000-3350 रुपये प्रति क्विंटल के आसपास हैं।


चीनी की गिरती कीमतों को रोकने और मिलों को राहत देने के लिए केंद्र सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। मिलों की चीनी बिक्री पर 2 महीने के लिए सीमा लगा दी गई है। मिलें पिछले महीने के बकाया स्टॉक और फरवरी में कुल उत्पादन की केवल 17 फीसदी ही चीनी बाजार में बेच सकेगी। यानि चीनी मिलों को कुल स्टॉक का 83 फीसदी स्टॉक अपने पास रखना होगा। इसी तरह से मार्च में चीनी मिलें फरवरी के बकाया स्टॉक और मार्च में उत्पादन को मिलाकर कुल स्टॉक की केवल 14 फीसदी ही चीनी बाजार में बेच सकेंगी। यानि चीनी मिलों को कुल स्टॉक की 84 फीसदी चीनी अपने पास रखनी होगी।


सरकार की इन कोशिशों से क्या चीनी मिलों को राहत मिलेगी, इसपर बात करते हुए शक्ति शुगर्स के एग्जीक्यूटिव वाइस चेयरमैन एम मणिक्कम ने कहा कि शुगर सेक्टर एक बार फिर डीकंट्रोल से कंट्रोल की ओर जाता दिख रहा है। सरकार के कदम से चीनी में गिरावट नहीं होगी। इस कदम से चीनी की कीमतों में बढ़त देखने को मिलेगी।


सूखे की वजह से तमिलनाडु में चीनी का प्रोडक्शन कम हुआ है। विदेश में भाव कम होने से एक्सपोर्ट संभव नहीं है।