Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

फाइनेंशियल इंक्लूजन में भारत की स्थिति सुधरी

प्रकाशित Wed, 28, 2018 पर 18:37  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

क्रिसिल के फाइनेंशियल इंक्लूजन इंडेक्स में भारत का नंबर सुधरा है। इस इंडेक्स में भारत 58 नंबर पर आ गया है। इसपर सीएनबीसी- आवाज ने क्रिसिल की एमडी और सीईओ आशु सुयश से खास बातचीत की जिसमें उन्होंने बताया कि भारत में डिपोजिट अकाउंट की संख्या 164.6 करोड़ है। देश में माइक्रो फाइनेंसिंग इंस्टीट्यूट के पास 19.6 करोड़ अकाउंट है।


उन्होंने आगे बताया कि देश में बैंकों की कुल शाखाएं 1.35 लाख है। वहीं देश में 34.4 करोड़ लोगों के पास लाइफ इंश्योरेंस है। प्रधानमंत्री जनधन योजना में 31 करोड़ अकाउंट खुले है जबकि एनपीएस ग्राहकों की संख्या 1.23 करोड़ पहुंच गई है।


आशु सुयश ने आगे कहा कि बैंकों की नई ब्रांच खोलने में कमी आई है। बैंकों का डिजिटल, मोबाइल बैंकिंग पर ज्यादा फोकस है। फाइनेंशियल इंक्लूजन में दक्षिण भारत सबसे आगे है और दक्षिण भारत में भी केरल इस मामले में पहले स्थान पर है।